Create
Notifications

'बाबर आजम और मोहम्‍मद रिजवान को पाकिस्‍तान के लिए बड़ी जिम्‍मेदारी उठाने की जरूरत'

बाबर आजम
बाबर आजम
Vivek Goel
FEATURED WRITER

पाकिस्‍तान के पूर्व कप्‍तान इंजमाम उल हक का मानना है कि बाबर आजम और मोहम्‍मद रिजवान को आगामी मैचों में टीम के लिए बल्‍लेबाजी विभाग में बड़ी जिम्‍मेदारी लेने की जरूरत है।

इंग्‍लैंड की बी टीम के खिलाफ पाकिस्‍तान की टीम पहले दो वनडे हार गई और इसी के साथ उसके हाथ से सीरीज फिसल गई। इंग्‍लैंड ने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बनाई है।

अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर बातचीत करते हुए इंजमाम उल हक ने कहा कि पाकिस्‍तान को आगे कप्‍तान बाबर आजम और रिजवान से बेहतर प्रदर्शन की उम्‍मीद है।

पूर्व कप्‍तान ने कहा, 'बाबर आजम अच्‍छा खेल रहा है। वह विश्‍व स्‍तरीय खिलाड़ी है। दुर्भाग्‍यवश वो आउट हो गया। मगर उसे जिम्‍मेदारी लेने की जरूरत है। यह बड़ी सीरीज है तो रिजवान और बाबर को खड़े होना पड़ेगा। दोनों अच्‍छे खिलाड़ी हैं और विकेट पर टिकने की जरूरत है ताकि वह टीम के अन्‍य खिलाड़‍ियों को प्रोत्‍साहित कर सके।'

बाबर आजम ने पहले दो वनडे में 0 और 19 रन बनाए। वहीं रिजवान ने 13 और 5 रन बनाए। पाकिस्‍तान को पहले वनडे में 9 विकेट जबकि दूसरे वनडे में 52 रन की शिकस्‍त झेलनी पड़ी थी।

इंजमाम उल हक ने शोएब मकसूद को सलाह दी कि वह वनडे प्रारूप में धैर्य बरते। मकसूद को पीएसएल 2021 सीजन में दमदार प्रदर्शन के कारण इंग्‍लैंड सीरीज के लिए चुना गया था। उन्‍हें दोनों मैचों में शुरूआत तो मिली, लेकिन वह इसे बड़े पारी में तब्‍दील नहीं कर पाए।

इंजमाम उल हक ने शोएब मकसूद के बारे में बातचीत करते हुए कहा, 'मकसूद ने पीएसएल में शानदार खेला और वो यहां भी अच्‍छे फॉर्म में दिखे। मगर उन्‍हें समझने की जरूरत है कि ये टी20 प्रारूप नहीं है। उन्‍हें स्‍ट्राइक रोटेट करना सीखना होगा। क्रीज पर समय बिताएं। 13-14 ओवर की जगह उन्‍हें 35-40 ओवर खेलने की तैयारी करना चाहिए।'

गेंदबाजों को भी सुधार की जरूरत: इंजमाम

जहां पाकिस्‍तान की पहले दो वनडे में हार के बाद बल्‍लेबाजों को सबसे ज्‍यादा कोसा जा रहा है। वहीं इंजमाम उल हक टीम के गेंदबाजी प्रदर्शन से निराश हैं। उनके मुताबिक स्थिति को देखते हुए गेंदबाजों को अपना कमाल दिखाना चाहिए था।

इंजमाम ने कहा, 'किसी ने गेंदबाजों की ज्‍यादा आलोचना नहीं की। पाकिस्‍तान ने पहले मैच में 141 रन बनाए, तो गेंदबाजों के पास बड़े लक्ष्‍य की रक्षा करने का मौका नहीं था। मगर दूसरे वनडे में उन्‍हें जल्‍दी विकेट निकालने चाहिए थे। इंग्‍लैंड को दूसरे वनडे में 247 रन नहीं बनाने देना था। जहां गेंद घूम रही हो, वहां इतना स्‍कोर बहुत अच्‍छा है। तो पाकिस्‍तान के गेंदबाजों को भी सुधार की जरूरत है।'

Edited by Vivek Goel
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now