Create

'टीम इंडिया के फैन्स में खेल भावना की कमी है', पूर्व विश्व कप विजेता का बड़ा बयान

 WTC फाइनल में मिली हार के बाद भारतीय टीम की आलोचना हर जगह हो रही है
WTC फाइनल में मिली हार के बाद भारतीय टीम की आलोचना हर जगह हो रही है
reaction-emoji
Rahul

विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी में टीम इंडिया (Team India) को एक और आईसीसी टूर्नामेंट के फाइनल में जीत नसीब नहीं हुई। उनके नेतृत्व व भारतीय टीम के खिलाड़ियों के प्रदर्शन की आलोचना अब हर जगह हो रही है। भारतीय फैन्स भी टीम इंडिया के प्रदर्शन से ख़ासा नाराज है लेकिन वर्ल्ड कप 1983 के विजेता और पूर्व भारतीय खिलाड़ी कीर्ति आजाद ने खेल भावना और जीतने की भावना पर बात करते हुए टीम इंडिया की आलोचना कर रहे फैन्स को लताड़ा है। कीर्ति आज़ाद के अनुसार भारतीय फैन्स पिछले दो वर्षों में मिली टीम इंडिया की कामयाबी को केवल के एक ख़राब मैच की वजह से भूल जाते हैं।

यह भी पढ़ें - एमएस धोनी के नए फोटो पर उनकी पत्नी साक्षी ने कहा - फोटो क्रेडिट प्लीज...

1983 विश्व कप के 38 साल पूरे होने के दौरान कीर्ति आज़ाद ने एक टीवी को दिए इंटरव्यू में कहा कि मुझे लगता है जब हार जाते हैं, तो आप कहते हैं कि जीतने की इच्छा ही नहीं थी। आप खेलते ही जीतने के लिए जो जरुरी भी होता है लेकिन भारत में फैन्स केवल जीतने की भावना को जानते हैं, न कि खेल भावना को। यदि कोई आपसे अच्छा खेला और जीता है, तो उसके खेल की सराहना करनी चाहिए। लेकिन इधर बस आलोचना करनी होती है। कीर्ति आज़ाद के अनुसार भारतीय फैन्स को सब्र रखना चाहिए और बुरे वक्त में अपनी टीम को सपोर्ट करना चाहिए।

यह भी पढ़ें - युवराज सिंह ने बदला अपना लुक, इस खास इन्सान ने डाला दबाव

कीर्ति आज़ाद ने 1983 विश्व कप जीतने वाली टीम और मौजूदा टीम के बीच कुछ भी फर्क न समझते हुए कहा कि मुझे लगता है कुछ फर्क नहीं है, उस टीम और इस टीम में। मुझे याद है जिस तरह से यशपाल शर्मा ने डायरेक्ट थ्रो से रन आउट किया था, वैसा ही कार्य रविन्द्र जडेजा अभी टीम इंडिया के लिए कर रहे हैं। भारतीय टीम ने 25 जून को पहला विश्व कप जीतने के 38 साल पूरे कर लिए। इस दौरान सभी दिग्गज खिलाड़ी मौजूद रहे और उन्होंने अपने अनुभव सभी के साथ साझा किया।


Edited by Rahul
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...