Create

IPL 2021 : रविचंद्रन अश्विन 'खेल भावना' पर खुलकर बोले, कहा - मैंने चोरी नहीं की या झूठ नहीं बोला

Rahul
आपको किसी और की पसंद के अनुसार जीने की जरूरत नहीं है - रविचंद्रन अश्विन
आपको किसी और की पसंद के अनुसार जीने की जरूरत नहीं है - रविचंद्रन अश्विन

IPL 2021 के एक मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स (Kolkata Knight Riders) के कप्तान इयोन मॉर्गन (Eoin Morgan) के साथ हुए 'खेल भावना' के विवाद को लेकर दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के ऑफ़ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने फिर से अपना पक्ष एक वीडियो के जरिये रखा है। अश्विन और मॉर्गन के बीच मैदान पर गहमागहमी भी देखने को मिली थी। उन्होंने अपने यूट्यूब चैनल पर इस विषय को लेकर गंभीर चर्चा और कई उदाहरण के साथ खेल भावना और क्रिकेट के नियमों के ध्यान में रखते हुए बात की है।

रविचंद्रन अश्विन का मानना है कि किसी खिलाड़ी को आप उसके खेलने के तरीके से आंक नहीं सकते। उन्होंने इस सन्दर्भ में संक्षिप्त में कहा कि, 'मुझे खुद के प्रति सच्चा होना जरुरी है। मुझे यह तय करने का अधिकार है कि मैं कैसे खेलना चाहता हूं। दूसरे लोग मुझे और मेरे खेल को जज नहीं कर सकते। खेल भावना उस समय स्थापित हुई जब शौकिया और पेशेवर क्रिकेट प्रारूप तय नहीं किए गए थे।

अश्विन ने उदहारण देते हुए कहा कि, 'ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड या न्यूज़ीलैंड में लोगों को शुरुआत से ही अलग तरह से पाला जाता है। उदाहरण के लिए: एक इंग्लैंड खिलाड़ी को सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट से सम्मानित किया जाता है। मान लीजिए कि कोई खिलाड़ी एक निजी कारण देता है और अनुबंध से बाहर निकलता है, तब भी उसे कॉन्ट्रैक्ट का पैसा प्राप्त होगा। जबकि भारत में ऐसा नहीं है। भारत में सप्लाई और डिमांड की मांग बहुत है। अगर कोई इस तरह के विकल्प का फैसला करता है, तो उसका जीवन बदल सकता है।

रविचंद्रन अश्विन ने किस तरह से क्रिकेट को मौजूदा समय में खेलना चाहिए उसको लेकर कहा कि, 'यह अब प्रोफेशनल खेल है - मेरा मुद्दा यह है कि आप तय करें कि आपको कैसे खेलना चाहिए, और मैं अपना करूंगा। मैं यहां किसी नियम का बचाव नहीं करना चाहता। और यही मेरी जिंदगी है। आपको किसी और की पसंद के अनुसार जीने की जरूरत नहीं है। मैंने चोरी या झूठ नहीं बोला है। मैं तो बस अपना खेलने का काम कर रहा हूँ।

Quick Links

Edited by Rahul
Be the first one to comment