Create

विराट कोहली में दिख रहा है बड़ा बदलाव, रवि शास्‍त्री ने किया खुलासा

विराट कोहली की सोच में स्‍पष्‍टता के बारे में रवि शास्‍त्री ने बताया है
विराट कोहली की सोच में स्‍पष्‍टता के बारे में रवि शास्‍त्री ने बताया है

भारतीय टीम (India Cricket team) के पूर्व हेड कोच रवि शास्‍त्री (Ravi Shastri) ने कहा कि विराट कोहली (Virat Kohli) धीरे, लेकिन निश्चित ही अपनी बल्‍लेबाजी में फैसला लेने सोच की स्‍पष्‍टता हासिल करने की झलक दिखा रहे हैं।

हेड कोच के कार्यकाल के रूप में विराट कोहली के साथ करीब से काम करने वाले रवि शास्‍त्री ने कहा कि एलीट एथलीट्स के लिए भी कोविड-19 महामारी के दौरान बायो-बबल में रहना मुश्किल पड़ा था। उन्‍होंने साथ ही कहा कि हाल ही में कोहली में स्‍पष्‍टता की कमी आई थी।

शास्‍त्री ने ध्‍यान दिलाया कि कोहली ने आरसीबी के पंजाब के खिलाफ मुकाबले में सोच में स्‍पष्‍टता की झलक दिखाई। पिछले साल आरसीबी की कप्‍तानी छोड़ने वाले कोहली ने नए सीजन का आगाज 29 गेंदों में 41 रन बनाकर किया। उन्‍होंने स्पिनर्स की गेंदों पर अच्‍छे से प्रहार किया, जो कि पिछले कुछ समय से कोहली के खेल की कमजोरी लग रही थी।

शास्‍त्री ने कहा कि कोहली ने दृढ़विश्‍वास और फैसला लेकर खेले। दो छक्‍के जमाए और एक बाउंड्री जमाई। हालांकि, केकेआर के खिलाफ कोहली बाहर की गेंद से छेड़छाड़ करने में आउट हो गए।

शास्‍त्री ने स्‍टार स्‍पोर्ट्स से कहा, 'आप जब बबल में हो, क्रिकेट ने जो पिछले 40-50 सालों में नहीं देखा, उस रूटीन से गुजरते हो तो आप एक रूट में अटक जाते हो। जो सोच की स्‍पष्‍टता होती थी, वो नहीं होती थी।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'अब जब कप्‍तानी का भार नहीं है। वो खुद के लिए सोच सकता है और किसी और चीज के लिए चिंतित नहीं रहता। सोच में स्‍पष्‍टता शायद लौट आई है। हमने पिछले मैच में इसकी झलक देखी। जब आप कुछ करना चाहते हैं तो आपका पूर्ण इरादा होना चाहिए। जब वो स्‍पष्‍टता वहां होगी, तो वो जरूर करेगा।'

आप क्‍या कोशिश कर रहे हो?

शास्‍त्री ने बताया कि कोहली आसानी से उमेश यादव की गेंद को खाली छोड़ सकते थे क्‍योंकि आरसीबी की टीम 129 रन के लक्ष्‍य का पीछा कर रही थी।

आरसीबी ने केकेआर को 128 रन पर रोक दिया था। जवाब में साउदी और यादव के झटकों से आरसीबी का स्‍कोर 17/3 हो गया था। फाफ और विराट के जल्‍दी आउट होने के बावजूद आरसीबी की टीम लक्ष्‍य का पीछा करने में सफल रही।

रवि शास्‍त्री ने कहा, 'आप बैठें और उससे पूछो कि क्‍या कोशिश कर रहा था? जिस पिच पर गेंदबाजों को जमकर मदद मिल रही थी, वहां वो उस गेंद को छोड़ सकता था। उसने शानदार शुरूआत हासिल की। 10 मिनट क्रीज पर था तो पूरे फॉर्म में था। मुझे लगता है कि कम ध्‍यान की वजह से उसका विकेट गिरा। आपके हाथ शरीर से दूर गए और आप गेंद पर हैं। अलग दिन पर आप संभवतः इसे छोड़ देते।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment