क्‍या भारत अपने ICC खिताब के सूखे को खत्‍म कर पाएगा? वर्ल्‍ड कप से पहले रविचंद्रन अश्विन को आया गुस्सा

India Training - ICC World Test Championship Final 2023
रविचंद्रन अश्विन ने विश्‍वास दिलाया कि भारतीय टीम आईसीसी खिताबी सूखा समाप्‍त कर पाएगी

भारत (India Cricket Team) की मेजबानी में इस साल अक्‍टूबर-नवंबर में आईसीसी वनडे वर्ल्‍ड कप 2023 (ICC World Cup 2023) का आयोजन होना है। 5 अक्‍टूबर को वर्ल्‍ड कप का उद्घाटन मैच खेला जाएगा जबकि फाइनल मुकाबला 19 नवंबर को खेला जाएगा। इस बार टीम इंडिया से उम्‍मीद की जा रही है कि वो 10 साल का आईसीसी खिताबी सूखा समाप्‍त करने में कामयाब होगी।

भारतीय टीम ने आखिरी बार एमएस धोनी की कप्‍तानी में 2013 चैंपियंस ट्रॉफी खिताब जीता था। भारतीय टीम ने इसके बाद कई बार आईसीसी खिताब जीतने की कोशिश की, लेकिन हर बार उसे नाकामी हाथ लगी। भारत लगातार दो बार विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल में पहुंचा, लेकिन ट्रॉफी जीतने से चूक गया। वर्ल्‍ड कप की बात करें तो 2015 और 2019 वनडे वर्ल्‍ड कप में वो सेमीफाइनल तक सफर तय कर सकी। टी20 वर्ल्‍ड कप 2022 में भी भारत का सफर सेमीफाइनल में समाप्‍त हुआ।

घरेलू जमीन पर टूर्नामेंट होने के कारण भारत को विश्‍व कप खिताब का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। मगर कई लोग शक कर रहे हैं कि पिछले 10 साल की तरह भारतीय टीम खिताब के करीब पहुंचकर चूक न जाए। इस बीच भारतीय टीम के अनुभवी ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने बड़ी प्रतिक्रिया दी है। अश्विन का मानना है कि भारत के पास इस साल विश्‍व कप जीतने का शानदार मौका है। अश्विन ने अपने आधिकारिक यूट्यूब चैनल पर कहा कि भारतीय टीम घरेलू वर्ल्‍ड कप में खिताब की प्रबल दावेदार के रूप में शुरुआत करेगी।

रवि अश्विन ने कहा, 'हम 2019 वर्ल्‍ड कप में भी मजबूत दावेदार के रूप में उतरे थे। प्रत्‍येक आईसीसी इवेंट में सभी टीमों को बराबरी का मौका मिलता है। अगर आप मुझसे पूछे तो बता दूं कि प्रत्‍येक क्रिकेट मैच 50-50 के चांस के मुताबिक शुरू होता है। मगर 2023 वर्ल्‍ड कप में भारतीय टीम खिताब की पसंदीदा टीम के रूप में उतरेगी।'

उन्‍होंने आगे कहा, 'निश्चित ही पूरा सोशल मीडिया इस बारे में बात कर रहा है कि भारत आईसीसी ट्रॉफी जीत पाएगा या नहीं। हम इस थीम को कई सालों से फॉलो कर रहे हैं, जहां पूछा जाता है कि क्‍या भारत आईसीसी खिताबी सूखे को खत्‍म कर पाएगा? अगर आप मुझसे पूछे तो यह हद पार करने वाली बात है।'

भारतीय ऑफ स्पिनर ने कहा, 'भारत मजबूत टीम है। कुछ पहलुओं को छोड़ दे तो इस बार भारत के पास शानदार मौका है।' इस दौरान रविचंद्रन अश्विन ने ओस से बचने के लिए एक अहम सलाह दी। उन्‍होंने कहा कि ओस से बचने के लिए डे/नाइट मैच की शुरुआत सुबह 11:30 या दोपहर 12 बजे से होनी चाहिए।

अश्विन ने कहा, 'मगर एक बात मैं चाहता था कि टूर्नामेंट के दौरान मैच के टाइमिंग में थोड़ा बदलाव हो। मैं चाहता हूं कि सभी मैच सुबह 11:30 या दोपहर 12 बजे से शुरू हो ताकि पूरी तरह ओस से बचा जा सके। देखिए इस वर्ल्‍ड कप का आयोजन अक्‍टूबर में होना है। इस समय ओस कितनी रहने वाली है? आमतौर पर विश्‍व कप इस समय नहीं होता है। 2011 में भी विश्‍व कप गर्मी में आयोजित किया गया था। इसकी शुरुआत फरवरी में हुई और अप्रैल के पहले सप्‍ताह में फाइनल खेला गया।'

Quick Links

Edited by Rahul VBS
App download animated image Get the free App now