Create

वीरेंदर सहवाग ने WTC Final पर कसा तंज, आईसीसी और बल्‍लेबाजों की उड़ाई खिल्‍ली

वीरेंदर सहवाग
वीरेंदर सहवाग

भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच सोमवार को साउथैम्‍प्‍टन में चल रहे विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल के चौथे दिन का खेल बारिश की भेंट चढ़ गया। पूरे दिन में एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी। मौजूदा टेस्‍ट में यह दूसरा मौका है, जब पूरे दिन का खेल बारिश की भेंट चढ़ा। इससे पहले डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल के पहले दिन का खेल भी बारिश में धुल गया था।

बता दें कि भारत और न्‍यूजीलैंड के बीच डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल के समय से क्रिकेट प्रशंसक काफी नाराज हैं। खिताबी मुकाबले में अब तक सिर्फ 141.1 ओवर का खेल हो पाया है। याद दिला दें कि टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल पहले लंदन के ऐतिहासिक लॉर्ड्स मैदान पर खेला जाना था। मगर कोरोना महामारी के चलते आईसीसी ने फाइनल का वेन्यू साउथैम्पटन के एजेस बाउल स्टेडियम शिफ्ट कर दिया था।

दरअसल, फैंस आईसीसी के रवैये से नाराज हैं क्‍योंकि बारिश की स्थिति को जानते हुए भी विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल का कार्यक्रम आयोजित किया गया। फैंस चाह रहे थे कि जब इंग्‍लैंड में इस समय बारिश की समस्‍या रहती है, तो फिर किसी अन्‍य जगह पर इसका आयोजन क्‍यों नहीं कराया गया।

मौके की नजाकत को देखते हुए टीम इंडिया और न्‍यूजीलैंड के बीच विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप फाइनल पर पूर्व विस्‍फोटक ओपनर वीरेंदर सहवाग ने तंज कसा है। सहवाग ने ट्वीट करके आईसीसी और बल्‍लेबाजों को एकसाथ लपेट दिया है।

टीम इंडिया के पूर्व ओपनर वीरेंदर सहवाग ने ट्वीट किया, 'बल्लेबाजों को भी टाइमिंग नहीं मिली ढंग की और आईसीसी को भी।'

बारिश के कारण आईसीसी की टाइमिंग भी खराब रही और बल्‍लेबाज अपना जलवा नहीं दिखा पाए, तो सहवाग ने एक तीर से दो निशाने किए।

भारत से कमाल की उम्‍मीद

बता दें कि डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल के तीसरे दिन भारतीय टीम की पहली पारी 217 रन पर ऑलआउट हुई। इसके जवाब में न्‍यूजीलैंड ने स्‍टंप्‍स तक 101/2 का स्‍कोर बना लिया था। कीवी टीम अभी भारत से 116 रन पीछे है जबकि उसके 8 विकेट शेष हैं। अब यह लगभग तय माना जा रहा है कि रिजर्व डे को उपयोग में लाया जाएगा।

भारतीय टीम के अनुभवी ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह ने उम्‍मीद जताई है कि भारतीय टीम डब्‍ल्‍यूटीसी फाइनल में जोरदार वापसी करेगी। क्रिकेटर ने ट्वीट किया, 'मैदान पर कल भारतीय टीम का दिन खराब था। अच्‍छी बात यह है कि दिन निकल चुका है। आज भारतीय टीम का समर्थन करता हूं कि वह तीनों सेशन अपने नाम करे। यह संभव है। ऐसा करो लड़कों।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment