Create
Notifications

ओपिनियन : भारतीय टीम की कप्तानी से विराट कोहली को हटाना गलत फैसला साबित होगा 

विराट कोहली
विराट कोहली
ANALYST
Modified 18 Jul 2019
फ़ीचर

आईसीसी क्रिकेट विश्वकप 2019 अब समाप्त हो चुका है और इस टूर्नामेंट से पहले जैसा कहा जा रहा था, भारतीय टीम ने वैसा प्रदर्शन किया भी लेकिन अंतिम समय में निर्णायक मोड़ पर पहुंचकर टीम जीत हासिल करने में असफल रही। सेमीफाइनल में हार के बाद विश्वकप में उनका सफर खत्म हो गया।

भारत के टूर्नामेंट से बाहर होते ही कई तरह के सवाल खड़े होने लगे, जिसमें एक सवाल महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास को लेकर तो दूसरा सीमित प्रारूप में भारतीय टीम की कप्तानी को लेकर था। क्रिकेट प्रशंसकों के एक बड़े वर्ग का मानना है कि सीमित प्रारूप में विराट कोहली से बेहतर कप्तानी रोहित शर्मा हो सकते हैं।

जबकि बहुत से लोगों का यह भी मानना है कि विराट कोहली को इतनी जल्दी कप्तानी से हटाना गलत फैसला साबित हो सकता है। यही नहीं इसके पीछे कई कारण भी हैं, जिन पर आज हम एक नजर डालने जा रहे हैं। जानिए क्या हैं वो मुख्य वजहें-

विश्वकप 2019 में फेल नहीं हुआ है भारत

भारतीय क्रिकेट टीम विश्वकप 2019 के लीग चरण के मुकाबलों में सबसे सफल टीम रही है, जिसने पाकिस्तान, ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका जैसी मजबूत टीमों को आसानी से हराया और उसे मात्र इंग्लैंड के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा, जो कि एक मामूली अंतर से मिली हार थी। लीग चरण के मैचों में भारत ने 7 जीत के साथ अंक तालिका में सबसे ऊपर स्थान बनाया था और खिताब की प्रबल दावेदार बनी। हालांकि सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ भारत की मध्य क्रम की बल्लेबाजी समस्या फिर से सामने आई लेकिन उसे पाटने का काम महेंद्र सिंह धोनी और रविंद्र जडेजा ने किया। इन दो शानदार खिलाड़ियों की बदौलत ही भारत ने सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड को कड़ी टक्कर दी लेकिन मैच नहीं जीत सके। भारत के प्रदर्शन को देखकर यह नहीं कहा जा सकता है कि भारतीय टीम इस टूर्नामेंट में फेल साबित हुई है और इसके पीछे विराट कोहली की कप्तानी का योगदान भी अहम है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

1 / 2 NEXT
Published 18 Jul 2019
1 comment
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now