Create

डेविड वॉर्नर की खराब फॉर्म को लेकर पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज की बड़ी प्रतिक्रिया 

डेविड वॉर्नर अभ्यास मैचों में कुछ खास नहीं कर पाए
डेविड वॉर्नर अभ्यास मैचों में कुछ खास नहीं कर पाए
reaction-emoji
Prashant Kumar

ऑस्ट्रेलिया (Australia Cricket Team) के धाकड़ ओपनिंग बल्लेबाज डेविड वॉर्नर (David Warner) के लिए यह साल कुछ खास साबित नहीं हुआ है और वह बल्ले के साथ अभी तक कुछ खास प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं और उनका हालिया प्रदर्शन भी कोई खास उम्मीद नहीं दे रहा है। वॉर्नर आईपीएल (IPL 2021) के इस सीजन में भी बल्ले के साथ संघर्ष करते दिखे और उनका खराब फॉर्म टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) में भी जारी है। उनकी बल्लेबाजी को लेकर ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली (Brett Lee) ने सनराइज़र्स हैदराबाद (SRH) ने जिस तरह से डेविड वार्नर के साथ व्यवहार किया, उसको जिम्मेदार ठहराया है। उनका मानना है कि इस वजह से वॉर्नर का आत्मविश्वास काफी कम हो गया है।

आईपीएल इतिहस के सबसे कामयाब बल्लेबाजों में से एक डेविड वॉर्नर के लिए यह सीजन काफी खराब रहा। पहले उन्हें कप्तानी से हटाया गया था और फिर उन्हें दो बार प्लेइंग XI से बाहर भी किया गया। उम्मीद थी कि वॉर्नर टी20 वर्ल्ड कप के अभ्यास मैचों से फॉर्म में वापसी करेंगे लेकिन ऐसा नहीं हुआ।

आईसीसी के लिए एक कॉलम में ब्रेट ली ने वॉर्नर के बारे में लिखा,

मौजूदा ऑस्ट्रेलियाई टीम में प्रतिभा से भरी हुयी है और मेरे लिए, सबसे अहम डेविड वॉर्नर हैं। मैं कहना चाहूंगा कि आईपीएल में खराब फॉर्म के बाद वह अपने रन अहम मैचों के लिए बचा रहे हैं। वहां उनके साथ वास्तव में कठोर व्यवहार किया गया और इस चीज ने कुछ हद तक उनके आत्मविश्वास को चोट पहुंचाई होगी लेकिन वह बड़े मंच के खिलाड़ी हैं। यहां उनके लिए सब कुछ अच्छा होना चाहिए, क्योंकि वह उच्च स्तर के खिलाड़ी हैं।

ब्रेट ली को टी20 वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया से अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद

ऑस्ट्रेलिया की टीम को 50 ओवर के फॉर्मेट में बहुत अधिक कामयाबी मिली और उन्होंने सबसे ज्यादा बार इस प्रारूप का वर्ल्ड कप भी जीता है लेकिन टी20 वर्ल्ड कप में टीम को अभी भी सफलता का इन्तजार है।

ब्रेट ली ने भी माना कि इस प्रारूप के वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया को उतनी कामयाबी नहीं मिली लेकिन उन्हें उम्मीद है कि ऑस्ट्रेलिया अपना रिकॉर्ड सुधारेगी। उन्होंने लिखा,

हमें इस प्रारूप में बहुत अधिक सफलता नहीं मिली है - यह समय है कि हम इसे बदल दें और हमारे पास एक ऎसी टीम है जो यह करने में सक्षम है। यह निश्चित रूप से आसान नहीं होगा, खासकर जब आप देखते हैं कि इंग्लैंड, भारत और न्यूजीलैंड की टीमें कितनी मजबूत हैं।

टी20 वर्ल्ड कप के इस संस्करण में ऑस्ट्रेलिया की टीम अपने अभियान की शुरुआत 23 अक्टूबर को दक्षिण अफ्रीका की टीम के खिलाफ करेगी।


Edited by Prashant Kumar
reaction-emoji

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...