Create

दक्षिण अफ्रीका टीम ने क्विंटन डी कॉक का स्‍वागत किया

क्विंटन डी कॉक को टीम के साथियों का समर्थन हासिल है
क्विंटन डी कॉक को टीम के साथियों का समर्थन हासिल है
Vivek Goel

रासी वान डर डुसैन (Rassie Van Der Dussen) ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम (South Africa Cricket team) ने अपने भाई क्विंटन डी कॉक (Quinton De Kock) का दोनों हाथ खोलकर वापस स्‍वागत किया है।

डी कॉक ने गुरुवार को वेस्‍टइंडीज के खिलाफ मैच में शिरकत नहीं करने के लिए माफी मांगी थी।

यह पूरा मामला ऐसा रहा कि क्रिकेट साउथ अफ्रीका ने वेस्‍टइंडीज के खिलाफ मुकाबले से पहले प्रोटियाज टीम को निर्देश दिए थे कि उन्‍हें ब्‍लैक लाइव्‍स मैटर अभियान का समर्थन करने के लिए घुटने टेकना हैं। नस्‍लभेद के खिलाफ लड़ाई के इस संकेत में क्विंटन डी कॉक ने हिस्‍सा नहीं लिया था। इसी के साथ उन्‍होंने कैरेबियाई टीम के खिलाफ मैच में नहीं खेलने का फैसला किया था, जिसके बाद उनकी कड़ी आलोचना हुई थी।

डी कॉक ने माफी मांगी और अपने बयान के आखिर में प्रोटियाज कप्‍तान टेंबा बावुमा को शानदार करार देते हुए गुजारिश की थी, 'अगर कप्‍तान और टीम और देश मुझे रखेगा, मैं दोबारा देश के लिए क्रिकेट खेलने से ज्‍यादा कुछ नहीं चाहूंगा।'

वान डर डुसैन ने कहा कि यह बहस का विषय नहीं बचा और प्रोटियाज टीम में डी कॉक के दोबारा शामिल होने पर पूरी टीम का उन्‍हें समर्थन हासिल है।

डुसैन ने कहा, 'क्विंटन डी कॉक दुनिया के सर्वश्रेष्‍ठ खिलाड़‍ियों में से एक हैं। टीम ने दोनों हाथ खोलकर उनका दोबारा स्‍वागत किया है। उनसे इस बारे में कुछ भी नहीं पूछा गया है। हम समझते हैं कि उन्‍होंने क्‍या किया है। अगर वो सेलेक्‍ट होते हैं, जिसका मुझे विश्‍वास है, तो वो ऐसे वापसी करेंगे, जैसे कुछ हुआ ही नहीं था। किसी को कोई चिंता नहीं है।'

डी कॉक को पछतावा है: डुसैन

उन्‍होंने आगे कहा, 'उम्‍मीद है कि वह सही मानसिकता में हो, जो मैच विजयी प्रदर्शन करें, जो वो करते आएं हैं और टीम के रूप में हमारे लिए वो काफी मूल्‍यवान हैं। ज्‍यादा महत्‍वपूर्ण क्विंटन डी कॉक को मैदान पर साथ में देखना है। वो हमारे भाई और दोस्‍त हैं व विश्‍व स्‍तरीय खिलाड़ी भी हैं।'

नस्‍लभेद संबंधों के मामलों में प्रोटियाज टीम की तरफ से ज्‍यादा अपनी बात सामने रखने वाले वान डर डुसैन ने दावा किया कि डी कॉक को हमेशा से पूरे स्‍क्‍वाड का समर्थन था, जो टीम की एकजुटता को दर्शाता है।

डुसैन ने कहा, 'क्विंटन डी कॉक को पछतावा है और यह मैं सकारात्‍मक अंदाज में कह सकता हूं। भले ही उन्‍होंने यह फैसला लिया, सभी जानते थे कि उन्‍होंने यह फैसला क्‍यों लिया और हमने उनका समर्थन किया जबकि पूरा दिन उनका समय अच्‍छा नहीं बीता। हम सभी ने उनका समर्थन किया।'

डुसैन ने आगे कहा, 'इससे पता चलता है कि एक टीम और प्रबंधन के रूप में हम कहां हैं। हम किसी को जज नहीं करते और स्‍वीकार करते हैं, जो अपने फैसले लेता है। हम उसकी इज्‍जत करते हैं। टीम में हमेशा से खुला वातावरण रहा है। डी कॉक को अपने आपको हमें समझाने की कोशिश नहीं करनी पड़ी, क्‍योंकि हमने लोगों को वैसे स्‍वीकार किया है, जैसे वो हैं। हमारी टीम सुरक्षित जगह है।' दक्षिण अफ्रीका अपना अगला मुकाबला श्रीलंका के खिलाफ खेलेगा।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...