Create
Notifications

टेस्ट क्रिकेट इतिहास की 5 सबसे सफल सलामी जोड़ियां

वीरेंदर सहवाग और गौतम गंभीर की भारतीय सलामी जोड़ी
वीरेंदर सहवाग और गौतम गंभीर की भारतीय सलामी जोड़ी
Prashant Singh Ranjan
visit

क्रिकेट साझेदारियों का खेल माना जाता हैं। अगर बात टेस्ट क्रिकेट में बल्लेबाजी की हो तो साझेदारियां इसका अहम हिस्सा बन जाती हैं। टेस्ट मैचों में ओपनिंग साझेदारी से लेकर निचले क्रम के बल्लेबाजों के बीच हुई साझेदारी, सबका अपना महत्व होता है। हालांकि शुरुआती विकेट के लिए की गई अच्छी साझेदारी ही टेस्ट मैच का रुख तय करती है। ऐसा देखा भी गया है कि जिन टीमों के पास एक अच्छी सलामी जोड़ी रही है, वो क्रिकेट के सबसे लंबे प्रारूप में सफल रही हैं।

यह भी पढें: Cricket Records: रोहित शर्मा द्वारा टेस्ट क्रिकेट में किए गए तीन कारनामे जो सचिन तेंदुलकर नहीं कर पाए

टेस्ट क्रिकेट में सलामी जोड़ी का कार्य बाकी सभी बल्लेबाजों से मुश्किल होता है। उन्हें मैच के शुरुआती समय में स्विंग हो रही नई गेंद का सामना करना होता है। ओपनिंग जोड़ी का महत्वपूर्ण काम नई गेंद की चमक को फीका करते हुए टीम को एक मजबूत शुरुआत देना होता है। टेस्ट क्रिकेट के लगभग डेढ़ सौ सालों के इतिहास में टीमोंं ने कई सारी सलामी जोड़ियों को आजमाया गया है लेकिन उनमें से कुछ ही बेहद सफल हो पाई हैं।

ऐसे में आइये एक नजर डालते हैं टेस्ट मैचों की पांच सबसे महान बल्लेबाजी जोड़ियों पर:

1.गॉर्डन ग्रीनिज और डेसमंड हेन्स (वेस्टइंडीज)

हेन्स और ग्रीनिज की दिग्गज जोड़ी
हेन्स और ग्रीनिज की दिग्गज जोड़ी

गॉर्डन ग्रीनिज और डेसमंड हेन्स की जोड़ी क्रिकेट के दोनों प्रारूपों की सबसे खतरनाक जोड़ी मानी जाती थी। 1978-91 केे दौरान वेस्टइंडीज का वर्चस्व कायम करने में इस जोड़ी का बड़ा योगदान रहा है। प्रारूप चाहे जो भी रहे, दोनों ही बल्लेबाज आक्रामक शैली में बल्लेबाजी करते थे।

इस जोड़ी के नाम टेस्ट मैचों में 148 पारियों में 47.31 की औसत से 6482 रन दर्ज हैं। इन दोनों ने पहले विकेट के लिए 16 बार शतकीय और 26 बार अर्धशतकीय साझेदारियां की। ग्रीनिज और हेन्स के बीच की सबसे बड़ी साझेदारी 298 रनों की रही।

2.मैथ्यू हेडन और जस्टिन लैंगर (ऑस्ट्रेलिया)

जस्टिन लैंगर और मैथ्यू हेडन
जस्टिन लैंगर और मैथ्यू हेडन

मैथ्यू हेडन और जस्टिन लैंगर की जोड़ी सिर्फ टेस्ट मैचों में ओपनिंग करते हुए दिखाई देती थी। इस जोड़ी ने साल 2001 से 2007 तक ऑस्ट्रेलिया के लिए पारी की शुरुआत करते हुए 113 पारियों में 5655 रन जोड़े। इस दौरान इन दोनों ने कुल 14 शतकीय और 24 अर्धशतकीय साझेदारियां की। मैथ्यू हेडन और जस्टिन लैंगर के बीच सबसे बड़ी ओपनिंग साझेदारी 255 रनों की रही।

3.एलिस्टेयर कुक और एंड्रयू स्ट्रॉस (इंग्लैंड)

एलिस्टेयर कुक और एंड्रयू स्ट्रॉस
एलिस्टेयर कुक और एंड्रयू स्ट्रॉस

एलिस्टेयर कुक और एंड्रयू स्ट्रॉस की जोड़ी इंग्लैंड के लिए आखिरी स्थायी सलामी जोड़ी थी क्योंकि स्ट्रॉस के संन्यास लेने के बाद से कुक को उनके रिटायरमेंट तक कोई स्थायी साथी नहीं मिला। इस जोड़ी ने 117 पारियों में इंग्लैंड के लिए 40.96 की औसत से 4711 रन जोड़े। इनके बीच 12 शतकीय और 18 अर्धशतकीय साझेदारियां हुई। कुक और स्ट्रॉस के बीच सबसे बड़ी साझेदारी 229 रनों की रही।

4.मर्वन अट्टापट्टू और सनथ जयसूर्या (श्रीलंका)

मर्वन अट्टापट्टू और सनथ जयसूर्या
मर्वन अट्टापट्टू और सनथ जयसूर्या

सनथ जयसूर्या और मर्वन अट्टापट्टू की जोड़ी ने श्रीलंका के लिए 1997 से लेकर 2007 तक टेस्ट मैचों में 118 बार पारी की शुरूआत की। इन दोनों ने साथ मिलकर 40.26 की औसत से 4469 रन जोड़े। इन दोनों के बीच 9 शतकीय और 24 अर्धशतकीय साझेदारियां हुईं। सनथ जयसूर्या और अट्टापट्टू के बीच सबसे बड़ी साझेदारी 335 रनों की रही।

5.गौतम गंभीर और वीरेंदर सहवाग (भारत)

गंभीर और सहवाग
गंभीर और सहवाग

गौतम गंभीर और वीरेंदर सहवाग की जोड़ी ने न सिर्फ दिल्ली बल्कि भारत के लिए भी पारी की शुरुआत की। इन दोनों ने 87 पारियों में 52.52 के शानदार औसत से 4412 रन जोड़े। इस दौरान वीरू और गौती की जोड़ी ने 11 बार शतकीय और 25 बार अर्धशतकीय साझेदारियां की। इनके बीच की सबसे बड़ी साझेदारी 233 रनों की रही।

Edited by सावन गुप्ता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now