Create

फेंसर भवानी देवी ने रचा इतिहास, ओलंपिक्‍स के लिए क्‍वालीफाई किया

भवानी देवी
भवानी देवी
Vivek Goel

भारतीय फेंसर (तलवारबाज) भवानी देवी ने इतिहास रच दिया है। भवानी देवी ने टोक्‍यो ओलंपिक्‍स के लिए क्‍वालीफाई कर लिया है। भवानी देवी ओलंपिक के लिए क्‍वालीफाई करने वाली पहली भारतीय फेंसर बन गई हैं। 27 साल की भवानी देवी फेंसिंग में सेबर इवेंट में खेलती हैं। खेल मंत्री किरेन रीजिजू ने भवानी को बधाई दी है। बता दें कि भवानी देवी ने एडजस्‍टेड ऑफिशियल रैंकिंग (एओआर) के आधार पर ओलंपिक के लिए क्‍वालीफाई किया।

भवानी देवी के ऑफिशियल क्‍वालीफिकेशन पर मुहर 5 अप्रैल को रैंकिंग जारी होने पर लगेगी। यह भारत का 50वां ओलंपिक कोटा है। भवानी देवी ने 2017 में आइलैंड में पहली बार कोई अंतरराष्‍ट्रीय टूर्नामेंट जीता था। साथ ही अंतरराष्‍ट्रीय टूर्नामेंट में फेंसिंग में मेडल जीतने वाली पहली खिलाड़ी भी थीं।

भवानी देवी का तलवारबाजी करियर

भवानी देवी पिछले 4 साल से निकोला जानोट्टी के साथ ट्रेनिंग कर रही है। निकोला कई गोल्‍ड मेडलिस्‍ट को ट्रेनिंग दे चुके हैं। 2004 में फेंसिंग को करियर बनाने वाली भवानी देवी 8 बार राष्‍ट्रीय चैंपियन रह चुकी हैं। हालांकि, भवानी देवी रियो ओलंपिक के लिए क्‍वालीफाई नहीं कर पाईं थीं। इस फेंसिंग ने हंगरी में हुए वर्ल्‍ड कप में भी जगह बनाई थी। ओलंपिक के लिए एशिया और ओशियाना क्षेत्र से 2 पोजीशन खाली थे।

भवानी देवी फिलहाल 45वीं रैंक पर हैं और उन्‍होंने 2 स्‍लॉट में से एक अपने नाम किया। याद दिला दे कि 17 साल पहले 2004 चेन्‍नई में कई खेलों को लेकर ट्रायल हुए थे। इसमें स्‍क्‍वॉश, जिमनास्टिक, वॉलीबॉल और फेंसिंग जैसे स्‍पोर्ट्स शामिल थे। चूकि दूसरे खेलों का कोटा फुल हो गया था और फिर फेंसिंग में ही जगह बची थी। भवानी देवी का तलवारबाजी करियर यहीं से शुरू हुआ।

टोक्यो ओलंपिक 23 जुलाई से शुरू होगा और 8 अगस्त तक चलेगा। वहीं, इसके बाद पैरालंपिक गेम्स की भी शुरुआत होगी। पैरालंपिक गेम्स 24 अगस्त से लेकर 5 सितंबर तक चलेगा। इन दोनों टूर्नामेंट का आयोजन पिछले साल ही होना था, लेकिन कोरोना की वजह से इसे स्थगित करना पड़ा।


Edited by Vivek Goel

Comments

Fetching more content...