अमेरिका, मैक्सिको और कनाडा में होगा 2026 का फुटबॉल विश्व कप

साल 2026 में फीफा विश्व कप की मेजबानी कौन करेगा इसका ऐलान हो गया है। 2026 में फुटबॉल विश्व कप की मेजबानी एक नहीं बल्कि 3 देश मिलकर करेंगे। अमेरिका, मैक्सिको और कनाडा को संयुक्त रुप से 2026 के फीफा विश्व कप की मेजबानी के लिए चुना गया है। फुटबॉल एसोसिएशन ने इसका ऐलान करते हुए कहा कि हम अमेरिका, कनाडा और मेक्सिको को 2026 के आयोजन अधिकार हासिल करने के लिए बधाई देते हैं। उत्तर अमेरिकी देशों के लिए बोली लगाने वाले प्रमुख कार्लोस कोर्डेरो ने कहा कि उनकी टीम दावेदारी पर भरोसा जताने के लिए फीफा परिवार के सदस्यों की शुक्रगुजार है। उन्होंने कहा कि टूर्नामेंट के पास फुटबाॅल को आने वाली पीढिय़ों के लिए नए रास्ते पर ले जाने का मौका होगा। अमेरिका, मेक्सिको और कनाडा ने फीफा सदस्य देशों के मतदान में मोरक्को को आसानी से हराकर संयुक्त रूप से मेजबानी के अधिकार हासिल किए। उत्तर अमेरिकी देशों को 203 में से 134 मत मिले जबकि मोरक्को फीफा कांग्रेस मतदान में सिर्फ 65 वोट ही हासिल कर पाया। जिन 3 देशों को ये मेजबानी मिली है उसमें मेक्सिको 1970, 1986 में और अमेरिका 1994 में इसका आयोजन कर चुका है। कनाडा को पहली बार फुटबॉल विश्व की मेजबानी का मौका मिला है।मोरक्को इससे पहले 4 बार विश्वकप के लिए आवेदन कर चुका है लेकिन एक बार भी सफल नहीं हो पाया। 2026 का फीफा विश्व कप अब तक का सबसे बड़ा विश्व कप साबित हो सकता है, क्योंकि इसमें 48 टीमें उतरेंगीं और 34 दिन में 80 मैच खेले जाएंगें। फिलहाल अभी फीफा विश्व कप में 32 टीमें खेलती हैं और एशियाई देशों ने अपना प्रतिनिधित्व कम होने का ऐतराज जताया था। अब एशियाई देशों को 8 स्लॉट मिलेंगे जो कि पहले 4 ही थे। गुरुवार को ज्यूरिख में हुई बैठक में ये फैसला लिया गया। 2018 के फुटबॉल विश्व कप का आयोजन रूस में हो रहा है। जिसमें दुनिया भर की दिग्गज टीमें हिस्सा ले रही हैं।

Edited by Staff Editor