AFC कप : ATK मोहन बगान लगातार दूसरी बार नॉकआउट स्टेज में, गोकुलम केरला हारकर बाहर

ATK मोहन बगान पिछली बार भी इंटर जोनल सेमिफाइनल में पहुंची थी।
ATK मोहन बगान पिछली बार भी इंटर जोनल सेमिफाइनल में पहुंची थी।

ATK मोहन बगान ने लगातार दूसरी बार AFC कप की नॉकआउट स्टेज में प्रवेश कर लिया है। टीम ने ग्रुप डी के अपने आखिरी मैच में मालदीव के फुटबॉल क्लब माजिया को 5-2 से मात दी और ग्रुप टॉप करते हुए इंटर-जोनल सेमिफाइनल में स्थान पक्का किया। वहीं मौजूदा आई-लीग विजेता गोकुलम केरला की टीम को अपने आखिरी ग्रुप मैच में बांग्लादेशी क्लब बसुंधरा किंग्स के खिलाफ 1-2 से हार झेलनी पड़ी और टीम टूर्नामेंट से बाहर हो गई।

कोलकाता में हुए मुकाबले में ATK की जीत में मिडफील्डर जोनी कुआको ने टीम के लिए शुरुआती दो गोल किए। पहले हाफ में 26वें और 37वें मिनट में गोल दागकर कुआको ने ATK को 2-0 से आगे किया। माजिया के लिए पेद्रो प्लासेरेज ताना ने 45वें मिनट में गोल कर खाता खोला। इसके बाद दूसरे हाफ में ATK के लिए 56वें मिनट में रॉय कृष्णा तो 58वें मिनट में सुबाशिष बोस ने गोल दागते हुए ATK के हक में स्कोर 4-1 कर दिया।

71्वें मिनट में कार्ल मैकह्यूग की ओर से गोल आया और ATK 5-1 से आगे हो गई। माजिया की टीम के लिए 73वें मिनट में ताना ने फिर गोल किया लेकिन ये नाकाफी था और ATK ने मैच 5-2 से जीत लिया। ग्रुप स्टेज के पहले मैच में मोहन बगान को गोकुलम ने 4-2 से हराया था, लेकिन टीम ने इसके बाद बसुंधरा को 4-0 और अब माजिया को 5-2 से हराकर लगातार दूसरी बार नॉकआउट स्टेज में जगह बनाई है।

इस जीत के साथ ATK की टीम साउथ एशिया जोन की चैंपियन बन गई है। टीम ASEAN जोनल फाइनल की विजेता, सेंट्रल जोनल की विजेता और ईस्ट एशिया जोन की विजेता टीमों के साथ ड्रॉ के आधार पर मैच खेलेगी। ड्रॉ के आधार पर एक टीम के खिलाफ ATK को सेमीफाइनल खेलना होगा। अंत में जीतने वाली दो टीमों के बीच मैच होगा और विजेता टीम टूर्नामेंट के फाइनल में पहुचेगी जहां वेस्ट जोन के फाइनलिस्ट से उसका सामना होगी। ATK की टीम पिछले साल भी ग्रुप डी में टॉप पर रही थी और इंटर जोनल फाइनल में पहुंची थी जहां उसे हार का सामना करना पड़ा था।

AFC कप का आयोजन हर साल एशियाई फुटबॉल कन्फेडेरशन की ओर से किया जाता है। AFC चैंपियन्स लीग में जिन टॉप क्लबों को एंट्री नहीं मिल पाती, वो AFC कप का हिस्सा बनते हैं। यूरोपीय फुटबॉल की भाषा में यह टूर्नामेंट UEFA चैंपियंस लीग के बाद दूसरे नंबर पर आने वाले यूरोपा लीग के बराबर महत्त्व रखता है। AFC कप इतिहास में कोई भारतीय क्लब खिताब नहीं जीत पाया है। साल 2016 में बेंगलुरु एफसी ने फाइनल में जगह बनाई थी, लेकिन उन्हें हार का सामना करना पड़ा था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
App download animated image Get the free App now