ला लीगा: एबार के खिलाफ ड्रॉ के साथ बार्सिलोना के मुश्किल साल का हुआ अंत

बार्सिलोना बनाम एबार
बार्सिलोना बनाम एबार

बार्सिलोना ने एबार के खिलाफ मंगलवार को ला लीगा का मैच 1-1 से ड्रॉ खेलकर मुश्किल साल का अंत किया। इस नतीजे से बार्सिलोना की टीम ला लीग में छठे स्‍थान पर है। वह एटलेटिको मैड्रिड से सात अंक पीछे है, जिसने दो मैच कम खेले हैं। बार्सिलोना के मैनेजर रोनाल्‍ड कोएमैन ने कहा, 'हमें वास्तिवक होना होगा। लीग बहुत कड़ी है। जिंदगी में कुछ भी नामुमकिन नहीं, लेकिन आपको एटलेटिको मैड्रिड जैसी टीमों के खिलाफ अंकों के अंतर की पहचान करनी पड़ती है, जो अब काफी दूर नजर आती है।' छह बार के बैलन डी ओर विजेता लियोनेल मेसी एड़ी की चोट से उबर रहे हैं और उन्‍होंने स्‍टैंड्स में बैठकर बार्सिलोना का मैच देखा।

लियोनेल मेसी की गैरमौजूदगी में मार्टिन ब्रेथवेट ने आठवें मिनट में पेनल्‍टी किक लिया और चूक गए। डाने ने 25वें मिनट में गेंद नेट के अंदर डाली, लेकिन इस किक को मान्‍य नहीं माना गया। भले ही बार्सिलोना ने गेंद पर ज्‍यादा देर कब्‍जा रखा और दूर से ज्‍यादा शॉट्स खेले, लेकिल एबार ने 57वें मिनट में गोल करके 1-0 की बढ़त बना ली थी। एबार के कप्‍तान किके गार्सिया ने रोनाल्‍ड आराउजो की गलती का फायदा उठाकर गोल दागा। आराउजो ने कहा, 'मैं जिम्‍मेदारी लेता हूं। मैंने ध्‍यान नहीं दिया कि फॉरवर्ड इतना करीब है। यह निराशाजनक है। हम जीतना चाहते थे और हम अच्‍छा खेल रहे थे।'

बार्सिलोना ने एबार के खिलाफ इस तरह की बराबरी

ओसमाने डेंबले ने 10 मिनट बाद दाएं पैर से जोरदार किक के सहारे गोल दागा और स्‍कोर 1-1 से बराबर कर दिया। मगर बार्सिलोना का कोई भी खिलाड़ी विजयी गोल नहीं दाग पाया। यह पूछने पर कि हम यह मैच नहीं जीत सके, इसके पीछे का क्‍या कारण है? इस पर बार्सिलोना के कोच रोनाल्‍ड कोएमैन ने कहा, 'हमें लियोनेल मेसी की कमी खली। हमने मौके बनाए। मगर हम पेनल्‍टी चूक गए। हमने गोल सहन किया और एकमात्र यही पल था जब उन्‍होंने गोलपोस्‍ट पर निशाना साधा था।'

लियोनेल मेसी ने इस सीजन में सभी स्‍पर्धाओं में 20 मैचों में 17 बार शुरूआत की और वह 10 गोल दागकर उनके शीर्ष स्‍कोरर भी रहे। लियोनेल मेसी के लिए 13 सीजन में यह गोल और सहायक की भूमिका निभाने के मामले में सबसे खराब सीजन रहा।

बार्सिलोना के कोच ने कहा, 'कोटिन्‍हों ने कहा कि उन्‍हें बाएं पैर के घुटने में दर्द महसूस हो रहा है। हमें अतिरिक्‍त परीक्षण कराने होंगे कि असली में पता चले कि उनके साथ गलत क्‍या हुआ है।'

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment