पेनाल्टी शूटआउट में डॉर्टमंड को हराकर बायर्न म्युनिक ने जीता जर्मन कप

IANS

ओलम्पिक स्टेडियम में शनिवार को मिली जीत के साथ बायर्न ने उम्मीद के अनुसार, अपने कोच जोसेप पेप गार्डियोला को एक सम्मानजनक विदाई दी। क्लब के साथ तीन साल तक कोच के तौर पर साथ रहे गार्डियोला अगले सत्र में मैनचेस्टर सिटी के कोच का कार्यभार संभालेंगे। जर्मन कप खिताब जीतने के लिए आरतुरो विडाल, रोबर्ट लिवांडोस्की, थोमस मुलर और डोगलास कोस्टा ने अपनी पेनल्टी को गोल में बदला और क्लब को 11वां घरेलू कपर खिताब जिताया। इस बीच, डार्टमंड को लगातार तीसरी बार जर्मन कप के फाइनल मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा है। इस मुकाबले की शुरुआत से ही दोनों टीमों का लक्ष्य एक भी गलती किए बिना आगे बढ़ने का था, क्योंकि एक भी चूक खिताबी जीत पर मंहगी पड़ सकती थी। हालांकि, अंत में बायर्न ने जीत दर्ज की। गार्डियोला ने कहा, "पेनल्टी शूटआउट में कुछ भी हो सकता था, पर हबम खुश हैं कि अंत में डार्टमंड को हराकर हमने जीत दर्ज की।" कोच ने कहा कि बायर्न में उन्होंने तीन बेहतरीन साल बिताए और उन्होंने आगामी वर्षो के लिए क्लब को शुभकामनाएं दी। डार्टमंड के कोच तुशेल ने कहा, "हमने आज (शनिवार) अपना बेहतरीन प्रदर्शन नहीं किया। हम बायर्न के खिलाफ जीतने में नाकाम रहे। हमें सुधार की जरूरत है।" --आईएएनएस

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment