Create

FIFA ने भारतीय फुटबॉल पर लगाया बैन हटाया, अंडर-17 विश्वकप की मेजबानी भी वापस दी

15 अगस्त 2022 को FIFA ने भारतीय फुटबॉल महासंघ को सस्पेंड कर दिया था।
15 अगस्त 2022 को FIFA ने भारतीय फुटबॉल महासंघ को सस्पेंड कर दिया था।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर फुटबॉल की मुख्य गवर्निंग बॉडी FIFA ने भारतीय फुटबॉल महासंघ यानी AIFF पर लगाया गया सस्पेंशन हटा लिया है। इसके साथ ही अक्टूबर में होने वाले अंडर-17 बालिका फुटबॉल विश्व कप की मेजबानी भी भारत को वापस दे दी गई है।

FIFA ने आधिकारिक बयान जारी करते हुए ऐलान किया कि AIFF पर थर्ड पार्टी के दखल के कारण लगाया गया सस्पेंशन हटाया जाता है। देश में फुटबॉल की खराब स्थिति और महासंघ की खराब हालत के चलते मई 2022 में सुप्रीम कोर्ट ने AIFF के प्रशासन को भंग कर दिया था और एक तीन सदस्यीय प्रशासकीय समिति यानी Committee of Administrators (CoA) को नियुक्त करते हुए भारत में फुटबॉल के खेल की देखरेख का सारा जिम्मा सौंप दिया था।

Wonderful news. FiFA lifts ban on Indian Football https://t.co/srcmaJQnAt

FIFA ने पहले ही चेता दिया था कि इस मामले में वो किसी तरह का कदम उठा सकता है। इसके बाद जब CoA ने AIFF में चुनाव कराने की तैयारी की तो FIFA की ओर से इसे दख़लंदाजी माना गया और 14 अगस्त के दिन सस्पेंशन का ऐलान किया गया। सस्पेंशन की खबर आने के बाद से ही देश भर में खेल प्रेमी AIFF के विरोध में लगातार ट्वीट करने लगे थे। सस्पेंशन के कारण 11 दिनों के लिए ही सही, देश में फुटबॉल पर काफी गहरा असर पड़ा था। देश से अंडर-17 फुटबॉल विश्व कप की मेजबानी छीन ली गई थी।

Happy news for Indian football as the FIFA BAN is lifted after a short duration 🥺🇮🇳#IndianFootball #FIFABan #AIFF #BlueTigers #BackTheBlue #allindiafootball https://t.co/bzG1BoMYOl

सस्पेंशन होने के बाद भारत सरकार की ओर से भी सुप्रीम कोर्ट से अपील की गई कि वो इस मामले में जल्द फैसला सुनाकर देश में फुटबॉल के भविष्य को बचाएं। इसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने CoA को भंग कर दिया और AIFF को वापस सारी शक्तियां दे दीं। इस फैसले की सूचना औपचारिक रूप से FIFA को दी गई और FIFA ने सस्पेंशन हटाने की घोषणा की। साथ ही 11 से 30 अक्टूबर के बीच होने वाले अंडर-17 बालिका विश्व कप की मेजबानी भी भारत को वापस दे दी गई। अब जल्द ही AIFF के बोर्ड के लिए चुनाव होंगे।

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment