Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

वर्ल्ड कप 2018, फाइनल: फ्रांस vs क्रोएशिया मैच प्रीव्यू

95   //    15 Jul 2018, 12:09 IST

फीफा वर्ल्ड कप 2018 का मेला अब अपने आखिरी दौर में कदम रख रहा है। ड्रामा, मनोरंजन और रोमांच से भरे 63 मैचों के बाद अब फीफा वर्ल्ड कप 2018 का फाइनल आज मॉस्को के लुझनिकी स्टेडियम में फ्रांस और क्रोएशिया के बीच खेला जाएगा।


ये रहे भारतीय समय अनुसार टूर्नामेंट में आज होने वाला मुकाबले और :


फ्रांस बनाम क्रोएशिया (रात 8.30 बजे)


फ्रांस बनाम क्रोएशिया


1998 में आखिरी बार वर्ल्ड कप जीतने वाली फ्रांस का सामना पहली बार वर्ल्ड कप फाइनल खेल रही क्रोएशिया से होगा। क्रोएशिया के लिए ये एक ऐतिहासिक लम्हा होगा और वो यहां पर इतिहास रचने के उम्मीद से मैदान में उतरेंगे। वहीं फ्रांस की टीम 1998 में खिताब जीत चुकी है जबकि 2006 के वर्ल्ड कप में उन्हें दूसरे स्थान से संतोष करना पड़ा था।


यहां पर फ्रांस की टीम दो बार वर्ल्ड कप जीतने वाली छठी टीम बनने के इरादे से उतरेगी। क्रोएशिया की टीम यहां थकान से संघर्ष कर सकती है। टीम को अपने आखिरी तीनों मैच में एक्स्ट्रा टाइम तक खेलना पड़ा था।



दोनों टीम का विश्लेषण


गोलकीपर



फ्रांस के कप्तान और गोलकीपर यूगो लोरिस के लिए टूर्नामेंट बेहद शानदार रहा है। ग्रुप स्टेज में लोरिस ने अपने प्रदर्शन से सभी को प्रभावित किया। मैच के दौरान वो टीम में दीवार के रूप में उभरें और कई अहम ब्लॉक किये। फ्रांस की टीम ने टूर्नामेंट में अच्छा डिफेंस दिखाया है और उसके पीछे यूगो लोरिस के ब्लॉक्स और पंचेस कि अहम भूमिका रही है।


क्रोएशिया के गोलकीपर डैनिएल सुबासिच ने रूस में सभी फैंस को अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया है। टीम को राउंड ऑफ 16 और फिर क्वार्टर फाइनल में पेनल्टी शूटआउट तक खेलना पड़ा जहां सुबासिच ने सभी को अपनी काबिलियत का प्रदर्शन दिया।


डिफेंस

Advertisement


वर्ल्ड कप 2018 में क्रोएशिया के खिलाफ अबतक केवल 5 गोल किये गए हैं तो वहीं फ्रांस के खिलाफ 4 गोल किये गए हैं। क्रोएशिया को इंग्लैंड के खिलाफ सेमीफाइनल में डिफेंड करने में दिक्कत आई थी और इस मैच में फ्रांस के फॉरवर्ड्स को रोकना टीम के डिफेंस के लिए सबसे बड़ी चुनौती होगी। फ्रांस की डिफेंस यहां मजबूत दिखाई दे रही है। सैमुएल उमतिति और रफाएल वरान विश्व के जाने माने डिफेंडर हैं और अबतक उनका प्रदर्शन शानदार रहा है। फ्रांस की डिफेंस को भेदना क्रोएशिया के लिए टेढ़ी खीर साबित हो सकता है।


मिडफ़ील्ड



क्रोएशिया के मिडफ़ील्ड में इवान रैकिटिच, लूका मॉड्रिच और मार्सेलो ब्रोज़ोविच जैसे दिग्गज खिलाड़ी मौजूद हैं जिन्होंने अपने दमपर टीम को फाइनल तक पहुंचाया है। क्रोएशिया कर पास यहां अनुभव और बॉल कंट्रोल है। वहीं फ्रांस की ओर से एनगोलो कांटे, पॉल पोग्बा और ब्लेज़ मतुईडी सामने होंगे और ये भिड़ंत बराबरी की होगी। फ्रांस के मिडफ़ील्ड के पास यहां तेज़ी देखने मिल सकती है।


अटैक



क्रोएशिया के फॉरवर्ड्स में अनुभवी मारियो मंजुकिच सबसे आगे हैं और उनकी मदद के लिए विंग में इवान पेरिसिच और एंटे रेबिच हैं। फ्रांस की मजबूत डिफेंस को भेदना तीनों के लिए सबसे अहम काम होगा। वहीं फ्रांस के पास युवा फॉरवर्ड्स के रूप में किलियन म्बाप्पे, एंटोइन ग्रीज़मन और ओलिवए जिरू ने शानदार काम किया है। 19 वर्षीय म्बाप्पे की तेजी देखने लायक है और उन्होंने इस वर्ल्ड कप में अपनी काबिलियत से सभी को प्रभावित किया है।


मैच का रुख बदलने लायक खिलाड़ी: किलियन म्बाप्पे और लूका मॉड्रिच


संभावित नतीजा: फ्रांस की जीत

Advertisement
Advertisement
Fetching more content...