Create
Notifications

नेपाल को हराकर भारत ने जीता सैफ कप, 8वीं बार खिताब किया अपने नाम

कप्तान सुनील छेत्री की अगुवाई में भारत ने नेपाल को हराकर खिताब जीता।
कप्तान सुनील छेत्री की अगुवाई में भारत ने नेपाल को हराकर खिताब जीता।
Hemlata Pandey
visit

भारतीय पुरुष फुटबॉल टीम ने 6 साल बाद SAFF (South Asian Football Federation) कप का खिताब अपने नाम कर लिया है। टीम इंडिया ने मालदीव की राजधानी माले में खेले गए फाइनल में पड़ोसी देश नेपाल को 3-0 से हराकर रिकॉर्ड 8वीं बार खिताब अपने नाम किया और पहली बार सैफ कप का फाइनल खेल रही नेपाल का खिताब जीतने का ख्वाब तोड़ दिया।

नेपाल ने दी कड़ी टक्कर

मैच की शुरुआत से ही भारतीय टीम ने गोल करने के कई मौके बनाए। चौथे मिनट में मोहम्मद यासिर ने लो शॉट के जरिए गोल का प्रयास किया लेकिन नेपाल के गोलकीपर किरन कुमार लिम्बू ने शानदार सेव किया। इसके बाद भी टीम इंडिया ने कई प्रयास किए लेकिन नेपाल के डिफेंस ने न सिर्फ अच्छा बचाव किया बल्कि पहले हाफ में भारतीय गोल पोस्ट के करीब भी पहुंचे। कप्तान सुनील छेत्री की टीम को पहले हाफ में नेपाल से कड़ी टक्कर मिली लेकिन कोई भी टीम गोल करने में नाकामयाब रही।

FULL-TIME ⌛️🏆🏆🏆🏆C.H.A.M.P.I.O.N.S. 🏆🏆🏆🏆🇮🇳 3-0 🇳🇵✍️ bit.ly/3AREQtk#INDNEP ⚔️ #SAFFChampionship2021 🏆 #BackTheBlue 💙 #IndianFootballhttps://t.co/bcZwgDxGHn

छेत्री के रिकॉर्ड गोल ने दिलाई बढ़त

सुनील छेत्री ने शानदार गोल कर भारत के लिए खाता खोला।
सुनील छेत्री ने शानदार गोल कर भारत के लिए खाता खोला।

दूसरे हाफ की शुरुआत होते ही भारतीय फॉरवर्ड ने अटैक शुरु कर दिया। 48वें मिनट में प्रीतम कोटल के क्रॉस को गोल में तब्दील कर टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। ये सुनील छेत्री के अंतर्राष्ट्रीय करियर का 80वां गोल है और इस मामले में अब वो अर्जेंटीना के लियोनल मेसी से आगे निकल गए हैं जिनके पास 79 अंतर्राष्ट्रीय गोल हैं। सुनील को उनके इस बेहतरीन गोल के लिए मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड मिला।

युवा फुटबॉलर सहल समद ने बतौर सब्स्टिट्यूट आकर आखिरी मिनट में टीम के लिए गोल किया।
युवा फुटबॉलर सहल समद ने बतौर सब्स्टिट्यूट आकर आखिरी मिनट में टीम के लिए गोल किया।

पहले गोल के दो मिनट बाद ही 50वें मिनट में सुरेश सिंह ने यासिर के पास को गोल में तब्दील कर टीम की बढ़त 2-0 कर दी। इसके बाद खेल के खत्म होने से कुछ ही देर पहले 90वें मिनट में बतौर सब्सटिट्यूट आए सहल अब्दुल समद ने बेहतरीन गोल करते हुए निर्णायक बढ़त को 3-0 कर दिया। सुनील छेत्री को टूर्नामेंट में 5 गोल करने के लिए सर्वाधिक गोल करने का अवॉर्ड दिया गया, इसके अलावा Most Valuable Player का खिताब भी सुनील को मिला जिन्होंने राउंड रॉबिन स्टेज में टीम को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई।

भारत का रिकॉर्ड खिताब

यह भारत का 8वां सैफ कप खिताब है। पिछली बार 2015 में टीम ने ये चैंपियनशिप जीती थी जबकि 2018 में फाइनल में मालदीव के हाथों टीम को हार मिली थी। 1993 में शुरु हुई ये चैंपियनशिप अब तक कुल 13 बार खेली जा चुकी है जिसमें से 12 बार भारतीय फुटबॉल टीम फाइनल में पहुंची। 1993 में पहली सैफ चैंपियनशिप भी भारत के नाम रही थी, जबकि साल 2003 में इकलौती बार टीम इंडिया सेमीफाइनल में बांग्लादेश से हारकर फाइनल तक नहीं पहुंच पाई थी।


Edited by निशांत द्रविड़
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now