Create
Notifications

एशियन फुटबॉल चैंपियनशिप : 42 साल बाद भारत को मिली मेजबानी, पहला मैच ईरान के खिलाफ

एशिया कप के लिए प्रैक्टिस करतीं भारतीय महिला फुटबॉल टीम।
एशिया कप के लिए प्रैक्टिस करतीं भारतीय महिला फुटबॉल टीम।
Hemlata Pandey
visit

AFC महिला एशिया कप फुटबॉल चैंपियनशिप का आगाज आज से होने जा रहा है। भारत 1979 के बाद पहली बार इस प्रतिष्टित टूर्नामेंट की मेजबानी कर रहा है। एशिया की टॉप 12 महिला फुटबॉल टीमों के बीच महाद्वीप का चैंपियन बनने के लिए 6 फरवरी तक मुकाबले होंगे। टूर्नामेंट के जरिए 5 टीमों को अगले साल होने वाले महिला फीफा फुटबॉल विश्वकप के लिए सीधे क्वालिफाय करने का मौका मिलेगा, ऐसे में भारतीय महिला टीम कम से कम नॉकआउट स्टेज तक पहुंचना जरूर चाहेगी। भारत का पहला मुकाबला आज ईरान से होगा।

तीन ग्रुप में बंटी टीमें

12 टीमों को तीन ग्रुप में बांटा गया है।

ग्रुप ए - भारत, चीन, चाइनीज ताइपे, ईरान

ग्रुप बी - ऑस्ट्रेलिया, थाईलैंड, फिलीपींस, इंडोनिशिया

ग्रुप सी - जापान, दक्षिण कोरिया, वियनताम, म्यांमार

गत विजेता जापान ग्रुप सी में है। फीफा रैंकिंग में 55वें नंबर पर काबिज भारत के ग्रुप में चीन(19वीं रैंक), चाइनीज ताइपे (39वीं रैंक) और ईरान (70वीं रैंक) शामिल हैं। ऐसे में अपने पहले मुकाबले में ईरान के खिलाफ टीम इंडिया से जीत की उम्मीद होगी।

पिछले कुछ समय में भारतीय महिला टीम ने काफी अच्छा प्रदर्शन किया है और ब्राजील समेत कई मजबूत टीमों के साथ दोस्ताना मुकाबले खेलते हुए अपने खेल को और मजबूत किया है। 2018 तक टॉप 8 टीमों को टूर्नामेंट में प्रवेश मिलता था, इस बार इसे बढ़ाकर 12 किया गया है। ऑस्ट्रेलियाई टीम पहले ही विश्व कप के लिए क्वालिफाय कर चुकी है।

The wait is over! AFC #WAC2022 kicks off TODAY 🤩🙌 Follow this link to catch all the action LIVE 🔴 gtly.to/Q8u9sTnQR https://t.co/kRuDBSuVJv

तीनों ग्रुप में टॉप 2 में आने वाली टीमें सीधे क्वार्टर-फाइनल में पहुंचेंगी, जबकि तीसरे नंबर पर आने वाली टीमों में से सबसे बढ़िया प्रदर्शन करने वाली 2 टीमों को अंतिम-8 में जगह मिलेगी। ऐसे में भले ही कोई टीम मुकाबला हार क्यों न जाए, कम से कम गोल डिफरेंस रखने की जरूरत होगी।

चीन के नाम सबसे ज्यादा खिताब

जापान लगातार दो बार से खिताब जीतती आ रही है। 2014 और 2018 में जापान ने फाइनल में ऑस्ट्रेलियाई टीम को हराकर खिताब अपने नाम किया था। 1975 में शुरु हुए इस टूर्नामेंट का आयोजन अब हर चार साल में होता है। चीन के नाम सबसे ज्यादा 8 खिताब हैं। 1979 में जब भारत ने पहली बार टूर्नामेंट की मेजबानी की थी तो टीम फाइनल तक पहुंची थी जहां चीन ने उसे हराया था। 1981 में टीम तीसरे स्थान पर रही जबकि 1983 में भारतीय महिलाएं फिर उपविजेता बनीं थीं। भारत ने आखिरी बार 2003 में टूर्नामेंट में खेलने का मौका कमाया था जब टीम ग्रुप स्टेज में बाहर हो गई थी।

पहले दिन दो मुकाबले

कुल 23 सदस्यीय भारतीय महिला टीम की घोषणा टूर्नामेंट के लिए की गई है।
कुल 23 सदस्यीय भारतीय महिला टीम की घोषणा टूर्नामेंट के लिए की गई है।

टूर्नामेंट के पहले दिन पहला मैच 8 बार की चैंपियन चीन और चीनी ताइपे के बीच दोपहर 3.30 बजे से खेला जाएगा जबकि भारत शाम को 7.30 बजे से अपना मुकाबला ईरान के खिलाफ खेलेगा। भारत का अगला मुकाबला 23 जनवरी को चीनी ताइपे के खिलाफ होगा जबकि सबसे कठिन मैच 26 जनवरी को चीन के खिलाफ होगा।


Edited by निशांत द्रविड़
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now