Create

ISL 2018-19 : एटीके ने चेन्नईयन को 2-1 से दी शिकस्त

Enter caption
Enter caption

आईएसएल के पांचवें सीजन के मुकाबले में पूर्व चैंपियन एटीके ने मौजूदा चैंपियन चेन्नइयन एफसी को 2-1 से हरा दिया। साल्ट लेक स्टेडियम में खेला गया यह मुकाबला एटीके का घरेलू मैदान पर दूसरा मैच था और उसने यहां पहली जीत दर्ज की है। पहले मैच में उसे नॉर्थईस्ट युनाइटेड ने मात दी थी।

इस जीत के साथ एटीके के कुल सात अंक हो गए हैं। वह अंक तालिका में चौथे नंबर पर पहुंच गई है। एफसी गोवा और बंगलुरु एफसी संयुक्त रूप से सात अंक लेकर दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं। एटीके के पांच मैचों में दो जीत, एक ड्रॉ और दो हार से कुल सात अंक हैं। हालांकि गोल अंतर के कारण वह उन दोनों से पीछे है।

इस मैच में चेन्नइयन पुराने मुकाबलों को भुलकर नई शुरुआत के इरादे से उतरी थी। हालांकि कालू उचे ने उनकी उम्मीदों पर मैच के शुरुआती मिनट में ही पानी फेर दिया। उचे ने गेर्सन विएइरा की सहायता से मैच के तीसरे मिनट में ही शानदार गोल किया। यह उचे के लिए इस सत्र का पहला गोल था। करणजीत ने हाफलाइन से गेंद गेर्सन की ओर बढ़ाई जिसे उन्होंने उचे के पास पहुंचाया। उचे ने गोलकीपर को मात देते हुए गेंद नेट में डाल दी और टीम को 1-0 से आगे कर दिया।

अभी चेन्नइयन इस सदमे से बाहर भी नहीं आए थे कि जॉन जॉनसन ने गोल कर एटीके को 2-0 से आगे कर दिया। यह गोल मैच के 13वें मिनट में लौंजारोते की मदद से हुई। लौंजारोते ने एक कर्लिंग किक बॉक्स के भीतर भेजी जिसे जॉनसन ने गोलपोस्ट में डालने में कोई गलती नहीं की।

इसके बाद चेन्नइयन के खिलाड़ी भी आक्रमक हो गए। चार मिनट बाद ही कार्लोस सालोम ने फ्रांसिस्को फर्नांडेज की मदद से चेन्नइयन का खाता खोला और टीम के लिए गोल किया। फ्रांसिस्को ने दाहिने फ्लैंक से गेंद को ड्रिबल करते हुए कार्लोस तक पहुंचाई और उन्होंने बगैर कोई गलती किए गेंद को नेट में डाल दिया। पहले हाफ में ही तीन गोल ने खेल को रोमांचक बना दिया। मैच के 27वें मिनट में प्रणॉय हल्दार को पीला कार्ड दिखाया गया। तीन मिनट बाद लौंजारोते ने एटीके के लिए तीसरा गोल करने का एक मौक बनाया लेकिन वे असफल रहे।

मैच के दूसरे हाफ में एक गोल से पिछड़ रही चेन्नइयन की टीम के लिए एटीके के जॉनसन ने लगभग आत्मघाती गोल कर ही दिया था लेकिन उनकी किस्मत ने उन्हें बचा लिया। मैच के 56वें मिनट में गेंद जॉनसन के पास गई। इस खिलाड़ी ने गेंद को क्लीयर करने की कोशिश में उसे कार्लोस के पास भेज दिया। हालांकि उनका शॉट पोस्ट से बाहर चला गया।

62वें मिनट में सालोम के पास गोल करने का एक और बेहतरीन मौका था लेकिन इस बार भी वे चूक गए। इसके बाद चेन्नइयन के पास मैच के 79वें मिनट में बराबरी का मौका आया। लेकिन उस बार भी उनकी किस्मत ने उनका साथ नहीं दिया। एटीके ने अंत तक अपनी बढ़त बनाए रखते हुए मैच में जीत हासिल की।

Quick Links

Edited by संदीप भूषण
Be the first one to comment