Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

ISL 2018-19 : बेंगलुरु एफसी ने चेन्नईयन को 1-0 से हराया

न्यूज़
Modified 20 Dec 2019, 19:00 IST

Enter captio

बेंगलुरु एफसी ने रविवार को इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के पांचवें सीजन के अपने पहले मुकाबले में चेन्नइयन एफसी को एक गोल से शिकस्त देकर जीत से आगाज किया। इस जीत के सूत्रधार मीकू नाम से मशहूर निकोलस लाडिसलाओ फेडोर फ्लोरेस रहे। उन्होंने मैच के 41वें मिनट में शानदार गोल करते हुए बंगलुरु को पहले हाफ में 1-0 की बढ़त दिला दी। यह गोल अंत में निर्णायक साबित हुआ।

बेंगलुरु की टीम मैच के शुरुआत से ही चेन्नइयन पर हावी दिखी। उसने लगातार आक्रमण किया। चेन्नइयन के खिलाड़ियों ने पूरा ध्यान भारतीय स्टार सुनील छेत्री को घेरे रखने में लगाया। इस बीच मैच के 35वें मिनट में बंगलुरु के हरमनजोत खबरा को पीला कार्ड दिखाया गया। चेन्नइयन की टीम अच्छा खेल रही थी लेकिन मैच के 41वें मिनट में मिकू ने गोल कर टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। यह गोल उन्होंने जिस्को हर्नांदेज की मदद से दागी।

चेन्नइयन की टीम ने पिछले साल कांतिराव स्टेडियम में ही खेले गए चैथे सत्र के फाइनल मुकाबले में बंगलुरु को 3-2 से शिकस्त दी थी। बंगलुरु ने इस जीत के साथ अपना बदला चुकता कर लिया। गोल पोस्ट पर शॉट लगाने के मामले में चेन्नईयन की टीम आगे रही लेकिन उसने हाथ आए मौकों को जाने दिया। गोलपोस्ट पर पहला शॉट बंगलुरु ने मैच के तीसरे मिनट में दागा हालांकि इसके बाद चेन्नइयन ने बढ़त हासिल करने के दो बेहतरीन मौके गंवा दिए। इन दोनों मौकों पर भारत के लिए खेलने वाले स्ट्राइकर जेजे लालपेखलुआ ने चूक की।

पहले हाफ में ज्यादातर समय गेंद पर चेन्नइयन का कब्जा रहा। चेन्नइयन ने मैच के 19वें और 32वें मिनट में गोल के मौके गंवाए थे। राहुल भेखे ने गेंद को अपने साथी को देने का प्रयास किया लेकिन जेजे ने तेजी दिखाते हुए गेंद अपने कब्जे में ले ली। उन्हें अब बस गोलकीपर गुरप्रीत संधू को छकाना था लेकिन वे इसमें नाकाम रहे।

दूसरे हाफ के शुरुआती मिनटों में दोनों टीमों के बीच गेंद के लिए शानदार संघर्ष देखने को मिला। मैच के 57वें मिनट में चेन्नइयन के जैरी लॉरिनजुआल को पीला कार्ड दिखाया गया। इसके दो मिनट बाद ही चेन्नइयन ने आइजक को बाहर भेजकर मैदान पर अनिरुद्ध थापा को बुलाया। इस बीच सुनील छेत्री मैच के 72वें मिनट में गोल करने के काफी करीब पहुंच गए थे। हालांकि इस बीच काल्डेरान ने उनके प्रयास को रोकने में कामयाब रहे। बॉक्स के भीतर गेंद पर नियंत्रण के बाद छेत्री ने उन्हें छकाने की भरपूर कोशिश की लेकिन नाकाम रहे। मैच में जब चार मिनट का इंजुरी टाइम जोड़ गया तो उनके पास गोल का एक मौका था लेकिन उसे भी चेन्नइयन ने गंवा दिया और मैच बेंगलुरु के पाले में चला गया।

Published 30 Sep 2018, 23:26 IST
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...