Create

इंडियन सुपर लीग - पहले लेग के दूसरे सेमीफाइनल में एटीके मोहन बगान के सामने हैदराबाद की चुनौती

एटीके मोहन बगान और हैदराबाद, दोनों ही अपने पहले खिताब के रास्ते पर हैं।
एटीके मोहन बगान और हैदराबाद, दोनों ही अपने पहले खिताब के रास्ते पर हैं।

इंडियन सुपर लीग के पहले लेग के सेमीफाइनल मुकाबलों का आगाज जमशेदपुर एफसी पर केरला ब्लास्टर्स की जीत के साथ हुई। दूसरे सेमीफाइनल में आज एटीके मोहन बगान और हैदराबाद की टीमें आमने-सामने होंगी। दोनों ही टीमें अपने पहले खिताब को जीतने की होड़ में हैं और ऐसे में ये मैच काफी रोमांचक हो सकता है।

इस सीजन सेमीफाइनल में स्थान पक्का करने वाली हैदराबाद पहली टीम थी।
इस सीजन सेमीफाइनल में स्थान पक्का करने वाली हैदराबाद पहली टीम थी।

हैदराबाद एफसी की टीम इस सीजन सेमीफाइनल में जगह पक्की करने वाली पहली टीम बनी थी। कोच मोनालो मार्केज की देखरेख में हैदराबाद ने इस पूरे सीजन एटीके के मुकाबले ज्यादा सधे तरीके और निरंतरता के साथ अपने मुकाबले जीते हैं। अपने आखिरी लीग मैच में गत चैंपियन मुंबई को मात देने वाली हैदराबाद ने सीजन के पहले मैच में भले ही चेन्नई के सामने मात खाई, लेकिन इसके बाद लगातार 8 मैच में बिना हार के अपना सफर तय किया। एटीके मोहन बगान ने इस पूरे सीजन कुल 37 गोल दागे जबकि हैदराबाद सबसे ज्यादा 43 गोल मारने वाली टीम बनी। यही नहीं मोहन बगान ने इस सीजन 26 गोल खाए जबकि हैदराबाद के प्रतिद्वंदियों ने 23 गोल दागे।

मोहन बगान को अपने विंगर्स को अटैक की ज्यादा जिम्मेदारी देनी होगी।
मोहन बगान को अपने विंगर्स को अटैक की ज्यादा जिम्मेदारी देनी होगी।

एटीके मोहन बगान ने बीच सीजन अपने कोच अनुभवी एंटोनियो हबास को बाहर का रास्ता दिखाया और गोवा एफसी के हुआन फर्रेंडो को लेकर आए। फर्रेंडो के आने के बाद मोहन बगान के खेल में निश्चित रूप से बेहतरीन निखार देखने को मिला। इस सीजन टीम ने 20 में से सिर्फ 3 मैच गंवाए जबकि हैदराबाद ने 4 मुकाबलों में हार का सामना किया जिनमें से एक हार मोहन बगान ने भी चखाई। ऐसे में दोनों टीमों के बीच होने वाली ये टक्कर नजदीकी होगी, ऐसा अनुमान है।

इस मैच में मोहन बगान की जीत कई खिलाड़ियों पर निर्भऱ करेगी। रॉय कृष्णा इस सीजन ज्यादा कमाल नहीं दिखा पाए, लेकिन फैंस और टीम कम से कम अब आखिरी मुकाबलों में उनसे अच्छे अटैक की उम्मीद करेगी। मोहन बगान के डिफेंडर झिंगन को टीम के लिए मौके बनाने की राह दिखानी होगी। हाल ही में ट्रांसफर विंडो के बाद टीम में वापस आए झिंगन को हैदराबाद का अटैक रोकने के लिए नए दांवपेंच भी दिखाने होंगे। हैदराबाद के लिए बार्ट ओग्बेचे ने संजीवनी का काम किया है और अगर वो अपनी लय में खेलेंगे तो टीम के लिए स्कोर कर सकते हैं। ओग्बेचे इस सीजन 17 मुकाबलों में 17 गोल दाग चुके हैं। हैदराबाद मिडफील्ड में जोआओ विक्टर पर भी निर्भर होगी और चिंगलेनसाना सिंह के खेल पर भी नजरें टिकाए रखेगी।

एटीके ने अपना सीजन शील्ड विनर जमशेदपुर के खिलाफ हार के साथ खत्म किया, लेकिन कोच फर्रेंडों इस हार का असर सेमीफाइनल पर बिलकुल नहीं होने देना चाहेंगे। पिछली बार की उपविजेता टीम बतौर एटीके मोहन बगान इस सीजन अपने पहले खिताब को पकड़ना चाहेगी। वहीं हैदराबाद इतिहास में पहली बार सेमीफाइनल में जगह बनाने में कामयाब हुई है। ऐसे में ये दबाव झेलने की तैयारी टीम को जरूर करनी होगी। फैंस प्रेडिक्शन और दोनों टीमों के मैच को देखकर यही कहा जा सकता है कि हैदराबाद का पलड़ा थोड़ा सा भारी है, ऐसे में मोहन बगान किस तरह की टक्कर देती है ये फैंस देखने में काफी दिलचस्प होंगे। मुकाबला आज शाम 7.30 बजे से गोवा के बाम्बोलिम में खेला जाना है जिसका सीधा प्रसारण स्टार स्पोर्ट्स के चैनल्स और हॉटस्टार पर फैंस कर सकते हैं।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment