Create

इंडियन सुपर लीग : पहले लेग के सेमीफाइनल में हैदराबाद ने दी मोहन बगान को मात

हैदराबाद की टीम पहली बार खिताबी मुकाबले में जाने के करीब पहुंची है।
हैदराबाद की टीम पहली बार खिताबी मुकाबले में जाने के करीब पहुंची है।

एटीके मोहन बगान ने इंडियन सुपर लीग के पहले लेग के अपने सेमीफाइनल मुकाबले में हार का सामना किया है। हैदराबाद एफसी ने मोहन बगान को 3-1 से मात देते हुए फाइनल मुकाबले में जगह बनाने की अपनी उम्मीदें और मजबूत कर ली हैं, जबकि पिछली बार की उपविजेता एटीके पर सेमीफाइनल से ही बाहर होने का खतरा बन गया है। शुरुआती गोल की बढ़त लेने के बावजूद मोहन बगान को हैदराबाद के अटैक के आगे घुटने टेकने पड़े। हैदराबाद की जीत में ओगबेचे, सिवेरियो और यासिर चमके।

जल्द मिली बढ़त गंवाई

मैच का पहला गोल करने वाले रॉय कृष्णा की बढ़त एटीके ने गंवा दी।
मैच का पहला गोल करने वाले रॉय कृष्णा की बढ़त एटीके ने गंवा दी।

एटीके ने मैच के शुरु होते ही अपने अटैक को काम पर लगा दिया और अनिकेत जाधव, डेविड विलियम्स गेंद को पास करते हुए हैदराबाद के गोल पोस्ट तक पहुंचाने की कोशिश करने लगे। 18वें मिनट में लिस्टन कोलाको के बेहतरीन असिस्ट की वजह से रॉय कृष्णा ने गोल कर एटीके को 1-0 से बढ़त दिला दी। इतनी जल्दी मिली बढ़त से एटीके का खेमा काफी खुश दिख रहा था। पहला हाफ खत्म होने से ठीक पहले 45वें मिनट में हैदराबाद ने वापसी की और हुआनन के पास की मदद से ओग्बेचे ने गोल दागा और मैच 1-1 से बराबरी पर ला दिया।

Mohammad Yasir and @akashmishra_4 with a lovely goal celebration last night 🕺🏻😎#HFCATKMB #HeroISL #LetsFootball @hydfcofficial https://t.co/pFX07m7xG6

दूसरा हाफ हैदराबाद के नाम रहा। 58वें मिनट में ओग्बेचे गेंद को मिडफील्ड में लेकर आए। एटीके के डिफेंडर संदेश झिंगन और तिरी गेंद को रोकने के चक्कर में टकरा गए, यासिर मोहम्मद ने इसी का फायदा उठाया और गोल कर हैदराबाद को 2-1 से आगे कर दिया। इसके बाद 64वें मिनट में यासिर मोहम्मद ने बेहतरीन असिस्ट कर गेंद जेवियर सिवेरियो को दी जिन्होंने एटीके के गोल पोस्ट के अंदर हेडर से गेंद डाल दी। हैदराबाद के तीसरे गोल के बाद कोई गोल नहीं हुआ और टीम 3-1 से एटीके को हराकर जीत की तरफ बढ़ गई।

इस जीत के बाद हैदराबाद और एटीके के बीच होने वाले दूसरे लेग के सेमीफाइनल से पहले मामला काफी दिलचस्प हो गया है। 16 मार्च को बाम्बोलिम के एथलेटिक स्टेडियम में एटीके की टीम 2 गोल से पिछड़ते हुए उतरेगी, मतलब उन्हें अगर फाइनल में जाना है तो कम से कम दो गोल तो करने ही होंगे। पिछली बार की उपविजेता एटीके से फैंस फाइनल में जगह बनाने की उम्मीद करेंगे। वहीं पहली बार सेमीफाइनल खेल रही हैदराबाद अगर अगले मैच में एटीके को गोलरहित या 1-1 के ड्रॉ पर भी रोक देती है तो सीधे खिताबी मुकाबले में पहुंच जाएगी।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment