Create

यूएफा चैंपियंस लीग फाइनल में पेरिस सेंट जर्मेन को खिताब का प्रबल दावेदार मानते हैं वेन रूनी

वेन रूनी का पीएसजी को समर्थन
वेन रूनी का पीएसजी को समर्थन

पेरिस सेंट जर्मेन और बायर्न म्‍यूनिख के बीच रविवार देर रात यूएफा चैंपियंस लीग 2020 का फाइनल मुकाबला खेला जाना है। इस मुकाबले पर फैंस और विशेषज्ञों की नजरें लगी हुई हैं। इंग्‍लैंड के पूर्व कप्‍तान वेन रूनी का मानना है कि पेरिस सेंट जर्मेन के पास गति और शैली है, जो बायर्न म्‍यूनिख की उच्‍च रक्षात्‍मक पंक्ति को छकाने में कामयाब होगी। बायर्न म्‍यूनिख ने सेमीफाइनल में ल्‍योन को 3-0 से मात दी थी। तब ल्‍योन के फॉरवर्ड मेंफिस डीपे और कार्ल टोको एकांबी बायर्न म्‍यूनिख की रंक्षापंक्ति का तोड़ नहीं खोज पाए थे। वेन रूनी ने चेतावनी दी कि पीएसजी के फॉरवर्ड नेमार, कायलियन मबापे और एंजेल डी मारिया इतना खराब प्रदर्शन नहीं करेंगे।

2008 में मैनचेस्‍टर यूनाइटेड के साथ चैंपियंस लीग खिताब जीत चुके वेन रूनी ने संडे टाइम्‍स में लिखे अपने कॉलम में बताया, 'बायर्न म्‍यूनिख को फायदा है कि उसके पास ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्‍हें चैंपियंस लीग फाइनल खेलने का अनुभव हासिल है। मगर मुझे पीएसजी के जीतने का विश्‍वास है। यह शूट-आउट में जाएगा और मुझे लगता है कि नेमार, मबापे व डी मारिया के सहारे पीएसजी की टीम बायर्न म्‍यूनिख के डिफेंस को तोड़ने में कामयाब होगी। वो मौके बनाएंगे और उसे भुनाने की पूरी कोशिश भी करेंगे।'

वेन रूनी ने आगे लिखा, 'मुझे कोई शक नहीं कि प्रेस तो बायर्न म्‍यूनिख को प्रबल दावेदार ठहराएगी, लेकिन पीएसजी के पास काफी अच्‍छा मौका है क्‍योंकि उसने गेंद पर अच्‍छे से कब्‍जा रखते हुए मुकाबले जीते हैं। उनके खिलाड़‍ियों को जब भी मौका मिला, तो प्रहार करने में कोई चूका नहीं।'

पेरिस सेंट जर्मेन में एंजेल डी मारिया होंगे तुरुप का इक्‍का

यूएफा चैंपियंस लीग फाइनल में पेरिस सेंट जर्मेन के फैंस की नजरें नेमार और कायलिन मबापे पर होगी, जिन्‍होंने मिलकर प्रतियोगिता में अब तक 9 सहायता और 8 गोल दागे हैं। मगर रूनी का मानना है कि मैनचेस्‍टर यूनाइटेड के उनके पूर्व साथी एंजेल डी मारिया मैच में बड़ा फर्क पैदा कर सकते हैं, वह तुरुप का इक्‍का साबित हो सकते हैं। रूनी ने कहा, 'पेरिस सेंट जर्मेन का मैच विनर एंजेल डी मारिया हो सकता है। वह शानदार खिलाड़ी है। वह पिच पर लगातार कड़ी मेहनत करता है और उनकी डिलीवरी, दृश्‍यता और सतर्कता बेहतरीन है।'

बता दें कि यूएफा चैंपियंस लीग में बायर्न म्‍यूनिख और पेरिस सेंट जर्मेन का आमना-सामना 8 बार हो चुका है। इसमें पीएसजी का पलड़ा भारी रहा है क्‍योंकि उसने पांच मैचों में जीत दर्ज की है। वहीं बायर्न म्‍यूनिख की टीम तीन मैच जीतने में सफल रही है। बायर्न म्‍यूनिख ने मौजूदा सीजन में शानदार प्रदर्शन करते हुए क्‍वार्टर फाइनल में बार्सिलोना को 8-2 से मात देकर बाहर किया। इसके बाद उसने सेमीफाइनल में ल्‍योन को 3-0 से मात देकर फाइनल में प्रवेश किया। वहीं पेरिस सेंट जर्मेन ने क्‍वार्टर फाइनल में एटलांटा को 2-1 जबकि सेमीफाइनल में आरबी लिपजिग को 3-0 से मात देने के बाद फाइनल में अपनी जगह पक्‍की की।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment