Create
Notifications

ISL 2016: नार्थईस्ट ने पुणे को 1-0 से हराया

Pritam Sharma

नार्थईस्ट की छह मैचों में यह पहली जीत है। दो लगातार जीत के साथ तीसरे सीजन का धमाकेदार आगाज करने वाली इस टीम ने 12 अक्टूबर को पुणे में मेजबान टीम को 1-0 से हराया था। उसके बाद से उसे चार मैचों में हार मिली थी जबकि दो मुकाबले बराबरी पर छूटे थे। इस टीम के लिए तालिका में ऊपर आने और खुद को सेमीफाइनल की दौड़ में बनाए रखने के लिए जीत की पटरी पर लौटना बेहद जरूरी था और इसके लिए घर से बेहतर जगह और कोई नहीं हो सकती थी लेकिन पुणे ने नार्थईस्ट को कड़ी टक्कर दी। उसने शुरुआती 80 मिनट तक अपने खिलाफ गोल नहीं होने दिया लेकिन अंतत: नाद्री ने अपनी टीम को अहम तीन अंक दिलाने वाला गोल कर दिया। पुणे ने पहले हाफ में नार्थईस्ट से बेहतर खेल दिखाया था और सही मायने में उसे पहले ही हाफ में बढ़त मिल जानी चाहिए थी लेकिन एंटोनियो हाबास की इस टीम को किस्मत का साथ नहीं मिला। इसी से झल्लाए पुणे के कप्तान मोहम्मद सिसोको पहले हाफ के अंतिम पलों में नार्थईस्ट के खिलाड़ी निकोलस वेलेज से भिड़ गए। सिसोको ने आव देखा न ताव वेलेज को मैदान में धक्का देकर गिरा दिया। दोनों टीमों के खिलाड़ी जुट गए और एक दूसरे से भिड़ने लगे। रेफरी ने यहां सूझबूझ का परिचय दिया और सभी को शांत करते हुए सिसोको को पीला कार्ड दिखाया। नार्थईस्ट के खिलाड़ी लाल कार्ड की उम्मीद कर रहे थे। पहले हाफ में पुणे के लिए अच्छा कर रहे मोमोर नडोए को चोट के कारण मैदान से बाहर जाना पड़ा था। दूसरे हाफ में दोनों टीमों ने स्तरीय खेल दिखाया और बढ़त हासिल करने का प्रयास किया लेकिन किस्मत एक बार फिर पुणे को दगा दे गई। दूसरी ओर उसने नार्थईस्ट का साथ दिया और 81वें मिनट में नाद्री के गोल की मदद से उसने जीत हासिल करने में सफलता पाई। नाद्री ने यह गोल एडवडरे फेरेरा द्वारा किए गए फाउल पर मिले फ्रीकिक पर किया। वह बड़ी चतुराई से पुणे के गोलकीपर एडेल बेटे को छकाने में सफल रहे। इस जीत ने नार्थइस्ट को 14 अंकों के साथ छठे स्थान पर पहुंचा दिया है। इस मैच से पहले वह सातवें स्थान पर था। वैसे तो उसे तालिका में एक स्थान की ही छलांग मिली लेकिन उसके खाते में आए तीन अंक आने वाले दिनों में उसे काफी मदद पहुंचाएंगे। दूसरी ओर, पुणे की टीम इस हार के बाद भी 15 अंकों के साथ चौथे स्थान पर बरकरार है। अगर वह यह मैच जीत लेती तो फिर 18 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर पहुंच जाती लेकिन नाद्री के गोल ने फिलहाल हाबास की रणनीति को फेल कर दिया है। हाबास इस मैच को जीतकर सेमीफाइनल के करीब पहुंचना चाहते थे लेकिन अब उन्हें नए सिरे से रणनीति बनानी होगी क्योंकि अब उनका सामना केरला ब्लास्टर्स और एटलेटिको दे कोलकाता जैसी दो मजबूत टीमों से होना है। --आईएएनएस


Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...