Create
Notifications

ये हैं वो 5 फुटबॉलर जो अपने पिता की तरह रचना चाहते हैं इतिहास

आभास शर्मा

फुटबॉल के खिलाड़ियों को पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा प्रसिद्धी मिलती है। हर खिलाड़ी इस खेल में अपना एक अलग नाम और मुकाम बनाता है। ऐसे में अगर किसी नामी खिलाड़ी का बेटा इस खेल को अपने करियर के तौर पर चुनने के लिए आगे आता है, तो उसे कई तरह के दबाव महसूस होते हैं। इन युवा खिलाड़ियों पर उन फुटबॉल फैंस की नजर रहती है जो इनके पिता को फॉलो करते आए हैं। सबसे बड़ा दबाव इस बात का होता कि कैसे वो अपने पिता की उपलब्धियों की बराबरी करें। इस दबाव को और ज्यादा गहरा बनाते हैं उनके मेंटॉर या कोच। यहां हम बात करेंगे ऐसे युवा खिलाड़ियों की जिनके पिताओं ने अपने दौर में फुटबॉल के खेल में अपना परचम लहराया और कई खिताब हासिल किए। अब ये युवा फुटबॉलर भी खुद का नाम बनाने के लिए आगे बढ़ रहे हैं।


#5 Mitchel Bergkamp

micehl

आर्सेनल के सबसे काबिल फुटबॉलरों में से एक 'डेनिस बर्गकैंप' ने अपना आखिरी मैच 2006 में अमिरात के स्टेडियम में खेला था। इसकी खास बात ये थी कि इस मैच को 'किक स्टार्ट' किया था उन्हीं के बेटे मिशेल बर्गकैंप ने। भले ही वो दिन डेनिस के फुटबॉल करियर का आखिरी दिन हो, लेकिन उनके बेटे ने उनकी विरासत वहीं से हासिल की थी। मिशेल बर्गकैंप काफी प्रतिभावान खिलाड़ी हैं। हालांकि जहां उनके पिता ने 12 साल की उम्र में अपना करियर 'Ajax' के साथ शुरू किया, वहीं मिशेल ने अलग रास्ता चुना। 2012-13 में 14 साल की उम्र में मिशेल 'अलमेरे सिटी' की अंडर15 की टीम से जुड़े। ये क्लब नीदरलैंड फुटबॉल के दूसरी श्रेणी के क्लबों में आता है। हालांकि अब 18 साल के हो चुके मिशेल की पूरी नजर इस बात पर है कि कैसे बेहतरीन खेल दिखाकर, आने वाले सीजन में पहली श्रेणी के क्लब में जहग बनाई जाए। #4 Justin Kluivert

justin

हॉलैंड के मशहूर फुटबॉलर 'पैट्रिक क्लूवर्ट' के चार बेटे हैं। हालांकि चारों में से जस्टिन ही हैं जो पैट्रिक के खेल की विरासत को आगे बढ़ाने के सबसे करीब दिखते हैं। उनकी कमाल की ड्रिब्लिंग और अच्छी गति के देखते हुए ये कहा जा सकता है कि वो अपने पिता के पदचिह्नों पर चल रहे हैं। जस्टिन, खेल की बारीकियां सीखने के लिए 'एजेक्स' क्लब में शामिल हुए। उनके पिता ने भी अपने करियर की शुरुआत इसी क्लब से की थी जिसके बाद वो एसी मिलान और बार्सिलोना जैसे बड़े क्लब्स के लिए भी खेले। फिलहाल जस्टिन एजेक्स के सहयोगी क्लब 'जॉन्ग एजेक्स' के साथ जुड़े हुए हैं और फुटबॉल के गुर सीख रहे हैं। हालांकि उनकी प्रतिभा को देखकर लगता है कि वो हॉलैंड के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी बन सकते हैं। #3 Devante Cole

devante

मैनचेस्टर यूनाइटेड और न्यूकासल के स्ट्राइकर रहे 'एंडी कोल' के बेटे हैं दिवांते कोल। 18 साल की उम्र में दिवांते मैनचेस्टर सिटी में शामिल होने के बेहद करीब थे, लेकिन लगातार लोन के कारण उन्हें 'ब्रैड्फोर्ड सिटी' में ही रहना पड़ा। दिवांते इस क्लब के खास 'Development squad' में शामिल हुए, जिसका संचालन मैन्यू के नामी खिलाड़ी 'पैट्रिक वीएरा' करते हैं। इस दल में रहते हुए दिवांते को कई सीनियर खिलाड़ियों के साथ दुनियाभर में घूमने का मौका मिला। इसी के चलते उन्होंने साउथ अफ्रीका में 'सुपरस्पोर्ट यूनाइटेड' के खिलाफ अपना पहला मैच खेला। 21 साल के होने के बाद वो 'फ्लीटवुड' में शामिल हुए, जहां वो हाल में अपने खानदार खेल को निखार रहे हैं। दिवांते कोल, इंग्लैंड की यूथ फुटबॉल टीम का भी हिस्सा रह चुके हैं। वो मौजूदा समय में देश के सबसे प्रबल युवा स्ट्राइकर्स की सूचि में आते हैं। अगर समय का साथ रहा तो वो अपने पिता एंडी के पदचिह्नों पर चलते हुए कई ऊंचाइयां हासिल करेंगे। #2 Joe van der Sar joe van नीदरलैंड के मशहूर गोलकीपर ‘एडविन वैन डर सार’ का बेटा ‘जो वैन डर सार’ भी उन्हीं की तरह एक बड़ा गोलकीपर बनने का ख्वाब देखता है। मौजूदा समय में एडविन ‘एजेक्स’ क्लब के तकनीकी मैनेजर हैं और जो भी इसी क्लब में प्रशिक्षण ले रहा है। जब उनके पिता मैनचेस्टर यूनाइटेड के लिए खिताब जीत रहे थे, तब जो खुशकिस्मती से मैनचेस्टर यूनाइटेड की अकादमी में ही ट्रेनिंग ले रहे थे। जब एडविन, मैन्यू के साथ अपने करियर के आखिरी दौर में थे तब जो ने एजेक्स क्लब का प्रतिनिधित्व किया। 2011 में एडविन के रिटायर होने के बाद वो नीदरलैंड लौट आए। उसी दौरान ‘जो’ भी ‘VV Noordwijk’ के साथ जुड़े लेकिन फिर एजेक्स में ही लौट गए। एजेक्स में रहते हुए जहां वो अपने खेल को इस समय बेहतर बना रहे हैं, वहीं फैंस की इच्छा होगी कि वो जो को अपने पिता की तरह ही देश का नाम रौशन करता देखें। #1 Enzo Fernandez

enzo

दुनिया में फुटबॉल इतिहास के सबसे प्रभावशाली खिलाड़ियों का जब भी जिक्र होता है तो उसमें एक खिलाड़ी का नाम जरूर आता है। ये खिलाड़ी है ‘ज़िनेडिन ज़िडान’। अपने दौर में दुनिया में तहलका मचाने वाले इस खिलाड़ी के तीन बेटे हैं जो फुटबॉल की दुनिया में नाम कमाने के लिए प्रयास कर रहे हैं। इस समय ज़िडान रियाल मैड्रिड के मैनेजर हैं और उनके तीनों बेटे इसी क्लब की यूथ अकादमी में ट्रेनिंग कर रहे हैं। ज़िडान के सबसे बड़े बेटे हैं ‘एंज़ो फर्नांडेज़’। उन्होंने अपनी मां के नाम का सर्नेम (फर्नांडेज़) इस्तेमाल करना बेहतर समझा जिससे लोग उनकी तुलना उनके पिता से न करें। हालांकि एंज़ो एक अच्छे मिडफील्डर के तौर पर उभर रहे हैं। उन्होंने 2011 में रियाल मैड्रिड की फर्स्ट टीम में रहकर प्रशिक्षण लिया और अभी 21 साल के एंज़ो ‘Real Madrid Castilla’ और रियाल मैड्रिड सी के साथ खेल रहे हैं। हालांकि वो जल्द से जल्द फर्स्ट टीम में लौटने की कोशिश कर रहे हैं। उनका छोटा भाई लुका भी एक काबिल गोलकीपर है, जबकि 13 साल का सबसे छोटा भाई थियो इस समय में मैड्रिड की यूथ टीम के अटैक की ताकत है।

Edited by Staff Editor

Comments

Fetching more content...