भीगे हुए अखरोट खाने के 10 फायदे

भीगे हुए अखरोट खाने के 10 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
भीगे हुए अखरोट खाने के 10 फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

भीगे हुए अखरोट खाने से ढेर सारे स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं, जिससे वे आपके आहार में एक पौष्टिक तत्व बन जाते हैं। खाने से पहले अखरोट को भिगोने से उनका पोषण मूल्य बढ़ सकता है और उनकी पाचनशक्ति में सुधार हो सकता है। भीगे हुए अखरोट खाने के फायदों पर प्रकाश डालने वाले 10 मुख्य तथ्य यहां दिए गए हैं:-

भीगे हुए अखरोट खाने के 10 फायदे (10 Benefits Of Eating Soaked Walnuts In Hindi)

youtube-cover

बेहतर पाचन: अखरोट भिगोने से फाइटेट्स और टैनिन जैसे जटिल यौगिकों को तोड़ने में मदद मिल सकती है, जो पोषक तत्वों के अवशोषण में बाधा डाल सकते हैं और पाचन संबंधी परेशानी पैदा कर सकते हैं। यह बेहतर पाचन और पोषक तत्वों के उपयोग में सहायता करता है।

पोषक तत्वों का बेहतर अवशोषण: भिगोने से अखरोट के भीतर एंजाइम सक्रिय हो जाते हैं जो विटामिन (जैसे विटामिन ई), खनिज (जैसे मैग्नीशियम और कैल्शियम), और एंटीऑक्सिडेंट जैसे आवश्यक पोषक तत्वों की रिहाई की सुविधा प्रदान करते हैं। इससे इन पोषक तत्वों की जैव उपलब्धता बढ़ जाती है।

हृदय स्वास्थ्य: अखरोट हृदय-स्वस्थ ओमेगा-3 फैटी एसिड, विशेष रूप से अल्फा-लिनोलेनिक एसिड (एएलए) से भरपूर होते हैं। अखरोट को भिगोने से अधिक ALA रिलीज हो सकता है, जो सूजन को कम करने, कोलेस्ट्रॉल के स्तर में सुधार और समग्र हृदय स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है।

मस्तिष्क स्वास्थ्य: अखरोट में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड मस्तिष्क के कार्य और विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। भिगोने से इन फैटी एसिड की उपलब्धता बढ़ जाती है, जिससे संभावित रूप से संज्ञानात्मक कार्य, स्मृति और मूड विनियमन को लाभ होता है।

एंटीऑक्सीडेंट सामग्री: अखरोट में पॉलीफेनॉल और विटामिन ई जैसे शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो ऑक्सीडेटिव तनाव से निपटने और कोशिकाओं को क्षति से बचाने में मदद करते हैं। भिगोने से इन एंटीऑक्सिडेंट्स की रिहाई बढ़ सकती है, जिससे उनके सुरक्षात्मक प्रभाव बढ़ सकते हैं।

वज़न प्रबंधन: अखरोट में स्वस्थ वसा, प्रोटीन और आहार फाइबर का संयोजन तृप्ति को बढ़ावा दे सकता है और लालसा को कम कर सकता है। भीगे हुए अखरोट एक संतोषजनक नाश्ता हो सकते हैं, जो संभावित रूप से वजन प्रबंधन में सहायक हो सकते हैं।

हड्डियों का स्वास्थ्य: अखरोट में कैल्शियम और मैग्नीशियम जैसे आवश्यक खनिज होते हैं, जो हड्डियों के स्वास्थ्य में योगदान करते हैं। भिगोने से इन खनिजों को अनलॉक करने में मदद मिल सकती है, जिससे वे अवशोषण के लिए अधिक उपलब्ध हो जाते हैं।

सूजन रोधी गुण: अखरोट में मौजूद ओमेगा-3 फैटी एसिड और एंटीऑक्सीडेंट उनके सूजन-रोधी प्रभाव में योगदान करते हैं। भिगोने से इन गुणों में वृद्धि हो सकती है, जिससे संभावित रूप से पुरानी सूजन संबंधी बीमारियों का खतरा कम हो सकता है।

त्वचा और बालों का स्वास्थ्य: अखरोट में मौजूद विटामिन ई स्वस्थ त्वचा और बालों का समर्थन करता है। अखरोट को भिगोने से विटामिन ई का स्राव बढ़ सकता है, जो त्वचा की लोच और युवा उपस्थिति में योगदान देता है।

कैंसर से बचाव: अखरोट में पाए जाने वाले कुछ यौगिक, जैसे एलाजिक एसिड और पॉलीफेनोल्स, संभावित कैंसर विरोधी प्रभावों से जुड़े हुए हैं। भिगोने से ये लाभकारी यौगिक निकल सकते हैं, जो कैंसर की रोकथाम में योगदान करते हैं।

भीगे हुए अखरोट को अपने आहार में शामिल करना उतना ही सरल हो सकता है जितना कि उन्हें दलिया, दही, सलाद में शामिल करना या अकेले नाश्ते के रूप में उनका आनंद लेना। याद रखें कि संयम महत्वपूर्ण है, क्योंकि अखरोट कैलोरी से भरपूर होते हैं। कुल मिलाकर, भिगोने वाले अखरोट उनके पोषण संबंधी लाभों को अनुकूलित कर सकते हैं और आपके समग्र स्वास्थ्य और कल्याण में योगदान कर सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now