Create
Notifications

ऑयल पुलिंग के 3 फायदे और 3 नुकसान - Oil Pulling Ke Fayde Aur Nuksan

ऑयल पुलिंग के 3 फायदे और 3 नुकसान (फोटो - sportskeedaहिंदी)
ऑयल पुलिंग के 3 फायदे और 3 नुकसान (फोटो - sportskeedaहिंदी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

ऑयल पुलिंग (Oil Pulling) स्वास्थ्य लाभ उत्पन्न करने के लिए लंबे समय तक तेल को मुंह में घुमाने या रखने के अभ्यास को कहा जाता है। ऑयल पुलिंग एक प्राचीन लोक उपचार है, जो मुँह के स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है। ऑयल पुलिंग करना आसान होता है, इसके लिए आप बस अपने मुंह में एक बड़ा चम्मच तेल डालें और इस तेल को मुंह में इधर-उधर घुमाएँ। लाभ पाने के लिए, आपको तेल को अपने मुँह के चारों ओर 5 से 20 मिनट तक हर दिन घुमाते रहने की ज़रूरत होती है। आयुर्वेदिक प्रथाओं के अनुसार, यह प्रक्रिया विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने और आपके मुंह को साफ करने के लिए अच्छा तरीका है। ऐसा माना जाता है कि यह दांतों से प्लाक को हटाने और दांतों, जीभ और मसूड़ों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद करता है। इस लेख से हम ऑयल पुलिंग के फायदे और नुकसान के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसके माध्यम से आपको इस विषय पर पर्याप्त जानकारी प्राप्त होगी।

ऑयल पुलिंग के 3 फायदे और 3 नुकसान

ऑयल पुलिंग के फायदे : Benefits Of Oil Pulling In Hindi

1. ऑयल पुलिंग के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले सूरजमुखी के तेल, तिल के तेल और नारियल के तेल में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जो मुंह के बैक्टीरिया की सफाई करने और दांतों से प्लाक हटाने में भी मददगार होते हैं।

2. मुंह से जुड़ी सभी समस्याएं जैसे - मुंह की गंदगी, मसूड़ों की समस्या और दांतों में कीड़ा लगना आदि मुंह की दुर्गंध का कारण बन सकते हैं। ऑयल पुलिंग में इस्तेमाल हाेने वाले तिल के तेल में एंटी-माइक्रोबियल, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीऑक्सीडेंट गुण पाए जाते हैं, जो मुंह की सभी समस्याओं में सहायक हैं, जिससे मुंह की दुर्गंध से छुटकारा मिलता है।

3. ऑयल पुलिंग के लाभों में से एक शरीर की एनर्जी बढ़ाना भी है। ऑयल पुलिंग की प्रक्रिया शरीर के मेटाबोलिज्म को बढ़ाने में भी मदद करती है। हाई मेटाबोलिज्म शरीर में एनर्जी को बढ़ावा देता है।

ऑयल पुलिंग के नुकसान : Side-Effects Of Oil Pulling In Hindi

1. इस प्रक्रिया को करते समय गलती से भी तेल को निगलें नहीं क्योंकि ऐसा करने पर मुंह का तेल सेहत को हानि पहुंचाने वाले टॉक्सिन्स व बैक्टीरिया को पेट तक पंहुचा सकता है।

2. ऑयल पुलिंग में इस्तेमाल होने वाले तेल से कई लोगो को एलर्जी भी हो सकती है। यह निमोनिया का कारण भी बन सकता है।

3. लंबे समय तक ऑयल पुलिंग करने से जबड़े में अकड़न महसूस हो सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...