आयरन की कमी दूर करेगा चुकंदर का परांठा, जानिए 5 फायदे और बनाने की विधि

आयरन की कमी दूर करेगा चुकंदर का परांठा, जानिए 5 फायदे और बनाने की विधि (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
आयरन की कमी दूर करेगा चुकंदर का परांठा, जानिए 5 फायदे और बनाने की विधि (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

आयरन एक महत्वपूर्ण खनिज है जो मानव शरीर के समुचित कार्य के लिए आवश्यक है। हालाँकि, आयरन की कमी दुनिया भर के कई लोगों, विशेषकर महिलाओं और बच्चों द्वारा सामना की जाने वाली एक आम समस्या है। आयरन की कमी से निपटने के कई तरीके हैं, लेकिन एक स्वादिष्ट और पौष्टिक उपाय है चुकंदर का पराठा। इस लेख में, हम चुकंदर के पराठे के फायदों के बारे में जानेंगे और इस स्वादिष्ट व्यंजन को बनाने की विधि के बारे में चरण-दर-चरण मार्गदर्शन प्रदान करेंगे।

आयरन की कमी दूर करेगा चुकंदर का परांठा, जानिए 5 फायदे और बनाने की विधि : 5 Benefits And Method Of Preparation For Beetroot Parantha In Hindi

चुकंदर आयरन, फाइबर और अन्य आवश्यक पोषक तत्वों का एक उत्कृष्ट स्रोत है जो समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद करता है। जब पूरे गेहूं के आटे के साथ मिलाया जाता है, चुकंदर पराठा एक स्वादिष्ट और पौष्टिक भोजन बनाता है जो आयरन की कमी से निपटने में मदद कर सकता है। चुकंदर में उच्च फाइबर सामग्री भी पाचन को विनियमित करने, कब्ज को रोकने और समग्र आंत स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद करती है।

आयरन एक महत्वपूर्ण खनिज है जो मानव शरीर में कई भूमिकाएँ निभाता है। यह हीमोग्लोबिन, मायोग्लोबिन और विभिन्न एंजाइमों का उत्पादन करने में मदद करता है जो शरीर के समुचित कार्य के लिए आवश्यक हैं। आयरन प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने, शरीर के तापमान को नियंत्रित करने और संज्ञानात्मक कार्य में सुधार करने में भी मदद करता है।

चुकंदर के स्वास्थ्य लाभ क्या हैं?

आयरन से भरपूर होने के अलावा, चुकंदर कई अन्य पोषक तत्वों का पावरहाउस है जो अच्छे स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मदद करता है। चुकंदर के कुछ स्वास्थ्य लाभों में शामिल हैं: -

1. ब्रेन फंक्शन को बढ़ाता है: चुकंदर में नाइट्रेट होते हैं जो मस्तिष्क में रक्त के प्रवाह को बेहतर बनाने में मदद करते हैं, संज्ञानात्मक कार्य को बढ़ावा देते हैं।

2. ब्लड प्रेशर कम करता है: चुकंदर में मौजूद नाइट्रेट रक्तचाप के स्तर को कम करने में मदद करता है, जिससे हृदय रोग और स्ट्रोक का खतरा कम होता है।

3. पाचन स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है: चुकंदर फाइबर में उच्च होता है, स्वस्थ पाचन को बढ़ावा देता है और कब्ज को रोकता है।

4. एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण: चुकंदर एंटीऑक्सिडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी यौगिकों से भरपूर होता है जो शरीर में सूजन को कम करने में मदद करता है।

5. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है: चुकंदर में मौजूद विटामिन सी और अन्य एंटीऑक्सीडेंट प्रतिरक्षा प्रणाली को बढ़ावा देने में मदद करते हैं, जिससे संक्रमण और बीमारियों का खतरा कम होता है।

कैसे बनाएं चुकंदर पराठा: स्टेप-बाय-स्टेप गाइड

आवश्यक सामग्री:

1 कप साबुत गेहूं का आटा

1/2 कप कद्दूकस किया हुआ चुकंदर

1/4 कप कटी हुई धनिया पत्ती

1/2 छोटा चम्मच कद्दूकस किया हुआ अदरक

1/2 छोटा चम्मच जीरा पाउडर

1/2 छोटा चम्मच धनिया पाउडर

नमक स्वाद अनुसार

1 बड़ा चम्मच तेल

विधि:

1. एक मिक्सिंग बाउल में गेहूं का आटा, कद्दूकस किया हुआ चुकंदर, कटा हरा धनिया, कद्दूकस किया हुआ अदरक, जीरा पाउडर, धनिया पाउडर, नमक और तेल मिलाएं।

2. आवश्यकता के अनुसार पानी मिलाते हुए मिश्रण को नरम आटा गूंद लें।

3. आटे को छोटी-छोटी लोइयों में बांट लें और उन्हें चपटा गोल आकार में बेल लें।

4. एक तवा या तवा गरम करें और पराठे को दोनों तरफ से सुनहरा भूरा होने तक सेंक लें।

5. गरम-गरम परोसें।

youtube-cover

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now