दूध रोटी खाने के फायदे

दूध रोटी खाने के फायदे (sportskeeda Hindi)
दूध रोटी खाने के फायदे (sportskeeda Hindi)

कई बार व्यक्ति का रोटी सब्जी खाने का मन नहीं करता, तो उस समय वह दूध रोटी का सेवन करता है। लेकिन अक्सर लोगों को ये सुनने में अजीब लगता है कि दूध के साथ रोटी कैसे खा सकते हैं। बता दें इसे खाने से पेट और सेहत दोनों चुस्त-दुरुस्त रहते हैं। इसके सेवन से शरीर में एनर्जी बनी रहती है। तो आइए जानते हैं दूध रोटी खाने के फायदे।

youtube-cover

दूध रोटी खाने के फायदे : 5 Benefits Of Doodh Roti In Hindi

वजन कम करने में मददगार -

जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं, उन लोगों को डिनर में दूध रोटी खानी चाहिए। क्योंकि ये कॉम्बिनेशन कैलोरी में तो हाई होता ही है साथ ही मेटाबॉलिज्म रेट को भी बढ़ाता है। जिससे आप जो कुछ भी खाते हैं वो आसानी से डाइजेस्ट हो जाता है और वजन भी कंट्रोल में रहता है। बार-बार भूख नहीं लगती।

एसिडिटी की प्रॉब्लम नहीं होती -

अगर किसी को अक्सर एसिडिटी की प्रॉब्लम रहती है तो ऐसे में आसानी से पचने वाला खाने का सेवन करना चाहिए। इसके लिए डिनर में दूध रोटी खाना शुरू कर दें।

कब्ज की समस्या दूर होती है -

अगर किसी को कब्ज की समस्या हो रही है तो ऐसे में रोटी को दूध के साथ खाना इस समस्या में काफी हद तक राहत दिला सकता है। साथ ही पेट सुबह आसानी से साफ हो जाएगा।

पोषक तत्वों की पूर्ति -

अगर आपके शरीर में विटामिन्स, मिनरल्स, प्रोटीन या कैल्शियम की कमी है, तो आप रात को रोटी दूध का सेवन कर सकते हैं। रोजाना रात को दूध के साथ रोटी खाने से सभी जरूरी पोषक तत्वों को प्राप्त किया जा सकता है। दूध रोटी खाने से विटामिन, कैल्शियम, आयरन और प्रोटीन जैसे पोषक तत्वों की पूर्ति होती है। इसलिए कहा जाता है कि दूध रोटी खाना सेहत के लिए फायदेमंद होता है।

नींद अच्छी आती है -

कई बार लोग भारी भरकम भोजन या तला-भुना खाना खाना खा लेते हैं। जिससे मोटापा ही नहीं बढ़ता बल्कि नींद भी डिस्टर्ब होती है। ऐसे में इन समस्याओं से बचे रहने के लिए रात को हल्का और सादा भोजन करें। जिसके लिए दूध-रोटी बेस्ट है। जो आसानी से पच जाता है। गैस, एसिडिटी नहीं होती और इस वजह से आप रात को सुकून से सो पाते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan