Create

किडनी के स्वास्थ्य के लिए खाएं यह 5 चीज़ें - Foods For Healthy Kidney

किडनी के स्वास्थ्य के लिए खाएं यह 5 चीज़ें (फोटो - sportskeedaहिंदी)
किडनी के स्वास्थ्य के लिए खाएं यह 5 चीज़ें (फोटो - sportskeedaहिंदी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

किडनी पेट में मौजूद छोटे अंग होते हैं जो शरीर के समग्र स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। किडनी खून से अपशिष्ट उत्पादों को फ़िल्टर करती हैं और उन्हें मूत्र के माध्यम से शरीर से बाहर करती हैं। यह फ्लूइड और इलेक्ट्रोलाइट के स्तर को संतुलित करने के लिए भी जिम्मेदार होती हैं। किडनी की देखभाल सम्पूर्ण स्वास्थ्य के लिए जरूरी होती है। ऐसे में, कुछ खाद्य पदार्थ के सेवन से किडनी को स्वस्थ रखा जा सकता है, जबकि अन्य उन पर तनाव डाल सकते हैं और नुकसान पहुंचा सकते हैं। इस लेख में किडनी स्वास्थ्य के लिए 5 खाद्य पदार्थो की सूची साझा की गयी है।

किडनी के स्वास्थ्य के लिए करें 5 चीजों का सेवन

1. पानी (Water)

पानी शरीर के लिए सबसे महत्वपूर्ण पेय है। खून में विषाक्त पदार्थों को ले जाने के लिए सेल्स पानी का उपयोग करती हैं। फिर किडनी पानी का उपयोग इन टॉक्सिन्स को बाहर निकालने और मूत्र बनाने के लिए करती हैं, जो उन्हें शरीर से बाहर ले जाते हैं।

2. फैटी मछली (Fatty fish)

सैल्मन, टूना, और अन्य ठंडे पानी वाली फैटी मछली जो ओमेगा-3 फैटी एसिड में उच्च होती हैं, आहार के रूप में ली जा सकती हैं। शरीर खुद से ओमेगा-3 फैटी एसिड नहीं बना सकता है, इसका अर्थ है कि शरीर को यह आहार से ही प्राप्त करना होगा। ओमेगा-3 फैट्स खून में फैट के स्तर को कम कर सकता है और ब्लड प्रेशर को कम करने में मददगार है। हाई ब्लड प्रेशर किडनी की बीमारी के लिए एक खतरा बन सकता है, ऐसे में इसका सेवन लाभदायक है।

3. हरी पत्तेदार सब्जियां (Green Leafy Vegetables)

हरी पत्तेदार साग-सब्जियां, जैसे कि पालक, केल और चार्ड, पोषक आहार हैं जिनमें विभिन्न प्रकार के विटामिन, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट और मिनरल होते हैं।

4. सेब (Apples)

सेब एक स्वास्थ्यवर्धक नाश्ता है जिसमें पेक्टिन नामक एक महत्वपूर्ण फाइबर होता है। पेक्टिन किडनी डैमेज के लिए कुछ जोखिम कारकों को कम करने में मदद कर सकता है, जैसे हाई ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल का स्तर।

5. शकरकंद (Sweet potatoes)

शकरकंद सफेद आलू के समान होते हैं, लेकिन अतिरिक्त फाइबर के कारण वह अन्य खाद्य पदार्थो की तुलना में धीरे ब्रेक डाउन होते हैं, जिसके परिणामस्वरूप इंसुलिन के स्तर में कम वृद्धि होती है। शकरकंद में पोटेशियम जैसे विटामिन और मिनरल भी होते हैं, जो शरीर में सोडियम के स्तर को संतुलित करने और किडनी पर इसके प्रभाव को कम करने में मदद कर सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...