इस कड़कड़ाती ठंड में खाएं पंजीरी, बढ़ेगा स्वाद और स्वास्थ्य रहेगा दुरुस्त

इस कड़कड़ाती ठंड में खाएं पंजीरी, बढ़ेगा स्वाद और स्वास्थ्य रहेगा दुरुस्त (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
इस कड़कड़ाती ठंड में खाएं पंजीरी, बढ़ेगा स्वाद और स्वास्थ्य रहेगा दुरुस्त (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

पंजीरी (Panjiri) एक पारंपरिक आयुर्वेदिक और भारतीय भोजन है जो साबुत अनाज, मेवों और मसालों के मिश्रण से बनाया जाता है। यह आमतौर पर गर्भावस्था, प्रसवोत्तर और सर्दियों के महीनों के दौरान शरीर को गर्मी और पोषण प्रदान करने के लिए सेवन किया जाता है। इस लेख में, हम पंजीरी के कुछ फायदों और इसे स्वस्थ आहार में कैसे शामिल किया जा सकता है, इस पर चर्चा करेंगे।

youtube-cover

इस कड़कड़ाती ठंड में खाएं पंजीरी, बढ़ेगा स्वाद और स्वास्थ्य रहेगा दुरुस्त - 7 Benefits Of Panjiri In Winters In Hindi

1. ऊर्जा प्रदान करता है (Provides energy)

पंजीरी एक उच्च ऊर्जा वाला भोजन है जो कार्बोहाइड्रेट और वसा से भरपूर होता है। यह निरंतर ऊर्जा प्रदान कर सकता है और थकान को रोकने में मदद कर सकता है, जिससे यह एथलीटों और शारीरिक रूप से सक्रिय लोगों के लिए एक बढ़िया नाश्ता बन जाता है।

2. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है (Boosts immunity)

पंजीरी में अदरक और हल्दी सहित कई तरह के मसाले होते हैं, जिनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले गुण पाए जाते हैं। ये मसाले संक्रमण और बीमारियों से बचाने में मदद कर सकते हैं, पंजीरी को सर्दियों के महीनों में खाने के लिए एक अच्छा भोजन बनाते हैं जब बीमारी का खतरा अधिक होता है।

3. पाचन में मदद करता है (Helps with digestion)

पंजीरी के मेवे और बीज फाइबर का एक अच्छा स्रोत हैं, जो पाचन में सुधार और कब्ज को रोकने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, पंजीरी में मसाले, जैसे कि सौंफ और जीरा, पाचन रस के उत्पादन को प्रोत्साहित करने और स्वस्थ पाचन को बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं।

4. हड्डी के स्वास्थ्य का समर्थन करता है (Supports bone health)

पंजीरी कैल्शियम का एक अच्छा स्रोत है, जो स्वस्थ हड्डियों के लिए आवश्यक है। यह फास्फोरस और मैग्नीशियम जैसे अन्य खनिजों से भी समृद्ध है, जो हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए भी महत्वपूर्ण हैं।

5. वजन घटाने में सहायता कर सकता है (May aid in weight loss)

जबकि पंजीरी एक उच्च ऊर्जा वाला भोजन है, यह पोषक तत्वों से भी भरपूर है, जो इसे प्रसंस्कृत, शर्करा युक्त खाद्य पदार्थों की तुलना में अधिक संतोषजनक स्नैक बनाता है। यह क्रेविंग को कम करने और आपको भरा हुआ महसूस कराने में मदद कर सकता है, जिससे वजन घटाने के प्रयासों में मदद मिल सकती है।

6. त्वचा के स्वास्थ्य में सुधार करे (Improves skin health)

पंजीरी में नट और बीज स्वस्थ वसा का एक अच्छा स्रोत हैं, जो त्वचा के स्वास्थ्य में सुधार करने और इसे चमकदार और युवा दिखने में मदद कर सकते हैं। इसके अलावा, पंजीरी के मसाले, जैसे कि हल्दी, में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं जो त्वचा को फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचाने में मदद कर सकते हैं।

7. गर्भावस्था और प्रसवोत्तर में मदद करे (Help with pregnancy and postpartum)

पंजीरी का सेवन अक्सर गर्भावस्था और प्रसवोत्तर के दौरान स्तनपान कराने में मदद के लिए किया जाता है। पंजीरी में नट और बीज ओमेगा-3 फैटी एसिड का एक अच्छा स्रोत हैं, जो शिशुओं में मस्तिष्क के विकास के लिए महत्वपूर्ण हैं। इसके अलावा, पंजीरी में सौंफ और अन्य मसाले दूध उत्पादन बढ़ाने और दूध के प्रवाह को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं।

अंत में, पंजीरी एक पौष्टिक और स्वादिष्ट भोजन है जिसका आनंद सभी उम्र के लोग उठा सकते हैं। यह ऊर्जा, पोषक तत्वों और प्रतिरक्षा-बढ़ाने वाले मसालों का एक बड़ा स्रोत है, और इसे विभिन्न प्रकार के स्वास्थ्य लाभ प्रदान करने के लिए स्वस्थ आहार में शामिल किया जा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
Be the first one to comment