उलटी-दस्त के लिए अपनाएं ये 7 घरेलू उपाय

उलटी-दस्त के लिए अपनाएं ये घरेलू उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
उलटी-दस्त के लिए अपनाएं ये 7 घरेलू उपाय (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

उल्टी (Vomit) और दस्त (Diarrhea) आम लक्षण हैं जो विभिन्न कारकों जैसे भोजन विषाक्तता, वायरल संक्रमण, या अन्य अंतर्निहित चिकित्सा स्थितियों के कारण हो सकते हैं। जबकि गंभीर मामलों में चिकित्सा ध्यान देने की आवश्यकता हो सकती है, हल्के मामलों का इलाज प्राकृतिक उपचारों का उपयोग करके घर पर किया जा सकता है जो सुरक्षित, प्रभावी और आसानी से उपलब्ध हैं। इस लेख में हम उल्टी और दस्त के लिए 7 घरेलू उपचारों के बारे में जानेंगे जिन्हें आप आजमा सकते हैं।

youtube-cover

उलटी-दस्त के लिए अपनाएं ये 7 घरेलू उपाय (7 Home Remedies For Vomiting And Diarrhea In Hindi)

1. अदरक (Ginger)

अदरक एक प्राकृतिक विरोधी भड़काऊ और एंटीमैटिक एजेंट है जो मतली और उल्टी को कम करने में मदद कर सकता है। अपने पेट को शांत करने और उल्टी को कम करने के लिए ताजा अदरक चबाएं या अदरक की चाय पिएं।

2. केले (Bananas)

केले पोटेशियम और इलेक्ट्रोलाइट्स से भरपूर होते हैं जो शरीर के हाइड्रेशन के स्तर को बहाल करने और दस्त को कम करने में मदद कर सकते हैं। दस्त के लक्षणों को कम करने में मदद के लिए पके केले खाएं या केले की स्मूदी बनाएं।

3. कैमोमाइल चाय (Chamomile tea)

कैमोमाइल चाय में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीस्पास्मोडिक गुण होते हैं जो पाचन तंत्र को शांत करने और दस्त को कम करने में मदद कर सकते हैं। दस्त के लक्षणों से राहत पाने के लिए पूरे दिन कैमोमाइल चाय पिएं।

4. सेब का सिरका (Apple cider vinegar)

सेब का सिरका एसिटिक एसिड से भरपूर होता है जो पेट में हानिकारक बैक्टीरिया को मारने और पाचन में सुधार करने में मदद कर सकता है। उल्टी और दस्त को कम करने के लिए एक गिलास गर्म पानी में एक चम्मच सेब का सिरका मिलाएं और इसे भोजन से पहले पिएं।

5. चावल का पानी (Rice water)

चावल का पानी एक प्राकृतिक उपचार है जिसका उपयोग सदियों से दस्त के इलाज के लिए किया जाता रहा है। छह कप पानी में आधा कप चावल उबालें, तरल को छान लें और दस्त के लक्षणों को कम करने के लिए इसे पूरे दिन पिएं।

6. प्रोबायोटिक्स (Probiotics)

प्रोबायोटिक्स जीवित जीवाणु होते हैं जो आंत के जीवाणुओं के संतुलन को बहाल करने और पाचन में सुधार करने में मदद कर सकते हैं। उल्टी और दस्त के लक्षणों को कम करने के लिए दही जैसे प्रोबायोटिक युक्त खाद्य पदार्थ खाएं या प्रोबायोटिक सप्लीमेंट लें।

7. पेपरमिंट ऑयल (Peppermint oil)

पेपरमिंट ऑयल में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीस्पास्मोडिक गुण होते हैं जो पाचन तंत्र को शांत करने और उल्टी और दस्त को कम करने में मदद कर सकते हैं। पाचन संबंधी लक्षणों को कम करने के लिए भोजन से पहले गर्म पानी में पेपरमिंट ऑयल की कुछ बूंदें मिलाएं और इसे पिएं।

अंत में, उल्टी और दस्त असहज और अप्रिय हो सकते हैं, लेकिन उनका इलाज प्राकृतिक उपचार से किया जा सकता है जो सुरक्षित और प्रभावी हैं। अदरक, केला, कैमोमाइल चाय, सेब साइडर सिरका, चावल का पानी, प्रोबायोटिक्स और पेपरमिंट ऑयल जैसे प्राकृतिक उपचारों का उपयोग करके आप अपने लक्षणों को कम कर सकते हैं और पाचन स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकते हैं। हालांकि, यदि आपके लक्षण बने रहते हैं या बिगड़ जाते हैं, तो चिकित्सकीय ध्यान देना महत्वपूर्ण है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

App download animated image Get the free App now