देर रात खाना खाने के 7 नुकसान- Der Raat Khana Khane Ke 7 Nuksan

देर रात खाना खाने के नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)
देर रात खाना खाने के नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)

आजकल की लाइफस्टाइल में ज्यादातर लोग किसी न किसी बीमारी के शिकार हैं, जिसका सबसे बड़ा कारण देर रात खाना खाने की आदत है। देर रात खाना खाने की वजह से आप कई बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। क्योंकि देर रात खाना खाने से पाचन शक्ति कमजोर होती है। जिससे खाना ठीक तरह से पच नहीं पाता है और शरीर में ज्यादा मात्रा में फैट जमने लगता है। जो काफी सारी बीमारियों को बुलावा देता है। बता दें कि खाने को पचाने के लिए 3-4 घंटे का समय लगता है। लेकिन रात में ज्यादातर लोग भोजन के तुरंत बाद सोने चले जाते हैं, जिसकी वजह से वह कई बीमारियों के शिकार हो जाते हैं। आइए जानते हैं देर रात खाना खाने के क्या-क्या नुकसान होते हैं।

देर रात खाना खाने के 7 नुकसान

1- देर रात खाना खाने से आप मोटापा (Obesity) के शिकार हो सकते हैं, और जैसा की हम सभी जानते हैं, मोटापा कई बीमारियों की जड़ होता है।

2- देर रात खाना खाने से अपच (Indigestion) की समस्या पैदा होती है, ऐसा इसलिए होता है क्योंकि रात के समय पाचन शक्ति बहुत धीरे कार्य करती है।

3- अगर आप देर रात खाना खाते हैं, तो इससे आपको एसिडिटी (Acidity) यानि गैस की समस्या भी हो सकती है। क्योंकि देर रात में भोजन कर के तुरंत सोने से खाना पच नहीं पाता है।

4- दोपहर की अपेछा रात में खाना पचने में काफी समय लगता है। साथ ही शरीर भी हल्का महसूस नहीं करता है। जिसके चलते आसानी से नींद भी नहीं आती है। इसी वजह देर रात खाना खाने से धीरे-धीरे अनिद्रा की समस्या शुरू हो जाती है।

5- देर रात भोजन करने से हाई ब्लड प्रेशर (High Blood Pressure) की बीमारी भी हो सकती है, और हाई ब्लड प्रेशर हार्ट के लिए काफी खतरनाक साबित होता है।

6- देर रात खाना खाने से शुगर (Sugar) लेवल भी तेजी से बढ़ सकता है। खासकर जो डायबिटीज के मरीज होते हैं, उनको देर रात खाना खाने से बचना चाहिए।

7- देर रात खाना खाने से कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) का स्तर बढ़ सकता है, जिससे हार्ट अटैक का खतरा भी काफी हद तक बढ़ जाता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।