वायरल बुखार, चिकनगुनिया जैसी बीमारियों में असरदार है गिलोय, जानिए अन्य फायदे

वायरल बुखार, चिकनगुनिया जैसी बीमारियों में असरदार है गिलोय, जानिए अन्य फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
वायरल बुखार, चिकनगुनिया जैसी बीमारियों में असरदार है गिलोय, जानिए अन्य फायदे (फोटो - sportskeedaहिन्दी)

गिलोय (Giloy), जिसे टीनोस्पोरा कॉर्डिफोलिया भी कहा जाता है, आयुर्वेद में आमतौर पर इसके विभिन्न स्वास्थ्य लाभों के लिए उपयोग की जाने वाली एक जड़ी बूटी है। यह एक चढ़ने वाला पौधा है जो भारत का मूल निवासी है और सदियों से पारंपरिक चिकित्सा में इसका उपयोग किया जाता रहा है।

वायरल बुखार, चिकनगुनिया जैसी बीमारियों में असरदार है गिलोय, जानिए अन्य फायदे (8 Benefits Of Giloy In Hindi)

वायरल बुखार और चिकनगुनिया के इलाज में कारगर होने के अलावा गिलोय के और भी कई फायदे हैं। उनमें से 8 यहां हैं:

1. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है: गिलोय अपने इम्यूनोमॉड्यूलेटरी गुणों के लिए जानी जाती है, जिसका अर्थ है कि यह शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद कर सकती है। यह सफेद रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को उत्तेजित करता है और संक्रमण से लड़ने में मदद करता है।

2. तनाव कम करती है: गिलोय अपने एंटी-स्ट्रेस गुणों के लिए भी जानी जाती है। यह शरीर में कोर्टिसोल, तनाव हार्मोन के स्तर को कम करके चिंता और तनाव को कम करने में मदद करता है।

3. सांस की समस्याओं का इलाज: गिलोय खांसी, जुकाम और अस्थमा जैसी सांस की समस्याओं के लिए एक प्रभावी उपाय है। यह फेफड़ों के कार्य को बेहतर बनाने में मदद करता है और श्वसन पथ में सूजन को कम करता है।

4. शरीर को डिटॉक्स करता है: गिलोय एक प्राकृतिक डिटॉक्सिफायर है जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने में मदद करता है। यह रक्त को शुद्ध करता है और लिवर के कार्य को बेहतर बनाने में मदद करता है।

5. पाचन में सुधार: गिलोय पाचन तंत्र के लिए फायदेमंद होती है। यह पाचन में सुधार करने में मदद करता है और कब्ज, अपच और गैस्ट्राइटिस जैसे पाचन संबंधी विकारों का इलाज करता है।

6. मधुमेह को प्रबंधित करने में मदद करता है: गिलोय मधुमेह वाले लोगों के लिए भी फायदेमंद है। यह रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है और मधुमेह से जुड़ी जटिलताओं के जोखिम को कम करता है।

7. त्वचा की समस्याओं का इलाज करता है: गिलोय में एंटीसेप्टिक और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो इसे एक्जिमा, सोरायसिस और मुंहासों जैसी त्वचा की समस्याओं के लिए एक प्रभावी उपाय बनाते हैं।

8. जोड़ों के दर्द को कम करता है: गिलोय में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो इसे जोड़ों के दर्द और गठिया के लिए एक प्रभावी उपाय बनाते हैं।

अंत में, गिलोय एक बहुमुखी जड़ी बूटी है जिसके कई स्वास्थ्य लाभ हैं। यह विभिन्न स्वास्थ्य समस्याओं के लिए एक प्राकृतिक उपचार है और इसका रस, पाउडर और कैप्सूल सहित विभिन्न रूपों में सेवन किया जा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Vineeta Kumar
App download animated image Get the free App now