Create

अदरक की चाय के फायदे- Adrak Ki Chai Ke Fayde

अदरक की चाय के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
अदरक की चाय के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)

अदरक की चाय (Ginger Tea) का दीवाना हर कई होता है। सर्दियों के मौसम में अदरक वाली चाय पीने का मजा ही अलग होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं, अदरक वाली चाय का सिर्फ स्वाद ही अच्छा नहीं होता है। बल्कि अदरक की चाय के कई फायदे भी होते हैं। अदरक की चाय स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद मानी जाती है। सर्दियों के मौसम में अदरक की चाय शरीर को अंदर से गर्माहट पहुंचाती है। साथ ही अदरक की चाय के सेवन से कई बीमारियां भी दूर होती है। अदरक औषधीय गुणों से भरपूर होती है। अदरक में भरपूर मात्रा में विटामिन ए, विटामिन डी और विटामिन ई, मैग्निशियम, आयरन, जिंक, कैल्शियम जैसे कई तत्व पाए जाते हैं। जानिए अदरक की चाय पीने के क्या-क्या फायदे होते हैं।

अदरक की चाय के फायदे (Adrak Ki Chai Ke Fayde In Hindi)

सर्दी-जुकाम में फायदेमंद

अदरक की चाय सर्दी-जुकाम (Cold) में फायदेमंद मानी जाती है। अगर किसी को सर्दी-जुकाम की शिकायत हो, तो उसे अदरक की चाय का सेवन करना चाहिए। इससे सर्दी-जुकाम में काफी आराम मिलता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है

अदरक में कई ऐसे तत्व पाए जाते हैं, जिससे रोग प्रतिरोधक (Immunity) क्षमता बढ़ती है। जिसकी वजह से किसी भी तरह के वायरल इंफेक्शन से बचने में काफी हद तक मदद मिलती है।

सिर दर्द में फायदेमंद

अदरक की चाय सिर दर्द (Headache) में काफी लाभदायक साबित होती है। अगर किसी को सिर दर्द की शिकायत हो, तो उसे अदरक की चाय का सेवन करना चाहिए।

ब्लड प्रेशर रहता है कंट्रोल

अदरक की चाय ब्लड प्रेशर (Blood Pressure) को कंट्रोल में रखती है। अगर किसी को ब्लड प्रेशर की शिकायत होती है, तो उसे अदरक की चाय का सेवन करना चाहिए। इससे ब्लड प्रेशर कंट्रोल में रहता है।

जोड़ो के दर्द में फायदेमंद

अगर किसी को जोड़ों में दर्द (Joint pain) की शिकायत हो, तो उसे अदरक की चाय का सेवन करना चाहिए। अदरक की चाय पीने से जोड़ों के दर्द से छुटकारा मिल जाता है।

पाचन तंत्र होता है मजबूत

अदरक की चाय पीने से पाचन तंत्र (Digestion) मजबूत होता है। जिससे खाना अच्छी तरह से डाइजेस्ट हो जाता है। साथ ही कब्ज जैसी समस्या से छुटकारा मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava
Be the first one to comment