Create

खसखस के फायदे और नुकसान- khaskhas ke fayde aur Nuksan

जानिए क्या है खसखस के फायदे और नुकसान
जानिए क्या है खसखस के फायदे और नुकसान
reaction-emoji
Ritu Raj

आयुर्वेद के अनुसार खसखस काफी शक्तिशाली जड़ी-बूटी है, जिसमें कई स्वास्थ्य समस्याओं को जड़ से खत्म करने की क्षमता होती है। खसखस (poppy seeds benefits) कितना लाभकारी है इसका अंदाजा इसी से लगा लें कि, इसके जरिए कब्ज से लेकर कैंसर जैसी घातक बीमारियों का भी इलाज किया जा सकता है। खसखस कैलोरी, प्रोटीन, फैट, फाइबर, कैल्शियम, फास्फोरस और आयरन जैसे पोषक तत्वों से समृद्ध होता है। आज हम जानेंगे इसके फायदे और नुकसान (poppy seeds side effects) के बारे में।

खसखस के फायदे Health Benefits of Poppy Seeds in Hindi

पाचन में सहायक

खसखस पेट संबंधी समस्याओं में लाभकारी है। इसमें फाइबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो कब्ज व गैस आदि से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। नियमित रूप से इसके सेवन से पेट संबंधी समस्याएं नहीं होती हैं।

मुंह के छाले

अगर आप मुंह के छालों से परेशान हैं तो खसखस इसमें फायदा पहुंचा सकता है। खसखस पेट की गर्मी को शांत कर मुंह के छालों से आराम दिलाने में मदद कर सकता है।

नींद में सुधार

नींद की समस्या से परेशान हैं तो खसखस का इस्तेमाल करना शुरू कर दें। एक रिसर्च की मानें तो, खसखस से अनिद्रा की समस्या के लिए सदियों से इस्तेमाल किया जा रहा है।

हड्डी स्वास्थ्य

खसखस कैल्शियम, जिंक और कॉपर जैसे पोषक तत्वों से भरपूर होता है जो हड्डियों को मजबूत करने और इनके विकास में मदद करते हैं। हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए कैल्शियम के साथ फास्फोरस की जरूरत पड़ती है और खसखस इन दोनों से ही समृद्ध है। ऐसे में खसखस का सेवन करने से हड्डियां मजबूत रहती हैं और इनके विकास में कोई परेशानी नहीं आती है।

मस्तिष्क स्वास्थ्य

खसखस कैल्शियम, आयरन व कॉपर जैसे पोषक तत्वों से समृद्ध होता है जो दिमागी क्षमता बढ़ाने के लिए जाने जाते हैं। इसमें मौजूद कैल्शियम न्यूरोनल फंक्शन को संतुलित करने के साथ ही याददाश्त को भी बढ़ाने का काम करता है।

खसखस के नुकसान Side Effects of Poppy Seeds in Hindi

जैसा की हम सभी जानते हैं कि किसी भी चीज का अगर ज्यादा इस्तेमाल करें तो वह हमारे लिए नुकसानदेह हो सकता है। खसखस भी जहां कई सारी बीमारियों को दूर भगाता है तो वहीं, इसके ज्यादा सेवन करने से कई तरह की समस्याएं हो सकती है।

-खसखस के कच्चे बीजों में मोर्फिन (Morphine) जैसे अल्फ़ाइड होता है, जो की एक दर्द निवारक है, जिससे नशे की आदत भी लग सकती है। इसलिए इसके पके बीजों का सेवन करना सही रहता है।

-ज्यादा मात्रा में खसखस का सेवन करने से श्वसन संबंधी समस्या हो सकती है।

-ज्यादा मात्रा में खसखस खा लेने से कई बार चक्कर और बेहोशी जैसा भी लग सकता है।

-जहां खसखस खाने से पेट की समस्याएं खत्म होती हैं तो वहीं अधिक सेवन से कब्ज की समस्या हो सकती है।

-इसके अलावा मतली और स्किन में खुजली जैसी समस्या भी हो सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Ritu Raj
reaction-emoji

Comments

comments icon
Fetching more content...