Create

अंकुरित मूंग खाने के फायदे : Ankurit Moong Khane Ke Fayde

अंकुरित मूंग खाने के फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)
अंकुरित मूंग खाने के फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)

आज के समय में लोगों को अपनी इम्यूनिटी को मजबूत रखना बहुत जरूरी हो गया है, क्योंकि इस कोरोना महामारी से बचने के लिए इम्यूनिटी का मजबूत होना बहुत जरूरी है। ऐसे में लोगों को अपने खाने में अंकुरित मूंग दाल का सेवन करना चाहिए। इसका नियमित सेवन आपकी इम्यूनिटी (Moong Sprouts Benefits) को बूस्ट कर सकता है। आपको बता दें, मूंग दाल (Ankurit Moong Dal) को रातभर पानी में भिगोकर रखने के बाद उसमें जब अंकुर फूटते हैं, तो वे सेहत के लिए किसी खजाने (Health Benefits Of Eating Sprouts) से कम नहीं होते।ऐसे इसलिए है, क्योंकि अंकुरित मूंग में प्रोटीन, फाइबर, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, पोटैशियम, जिंक, आयरन, मिनरल, एंटी-ऑक्सि‍डेंट, कॉपर, विटामिन ए, बी, विटामिन सी, विटामिन ई जैसे तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। यही नहीं, इसमें फैट की मात्रा भी बहुत कम पाई जाती है।

अंकुरित मूंग खाने के फायदे -

इम्यूनिटी पावर मजबूत होती है - अगर कोई अपनी सुबह की शुरूआत खाली पेट एक मुट्ठी अंकुरित मूंग दाल (Ankurit Moong Dal) खाकर करता है तो इससे उसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता (immunity) काफी मजबूत हो सकती है।

वजन घटाने में लाभकारी - आज के समय में लोग अपने बढ़ते वजन की वजह से परेशान हैं ऐसे में अंकुरित मूंग दाल (Ankurit Moong Dal) आपके लिए किसी रामबाण से कम नहीं है। दरअसल अंकुरित मूंग में फैटी की मात्रा काफी कम पाई जाती है, जो वजन कम (weight loss) करने में मददगार होती है। ऐसे में रोजाना खाली पेट अंकुरित मूंग का सेवन करने से वजन को आसानी से कम किया जा सकता है।

पाचन समस्याओं में लाभकारी - लोगों की लाइफस्टाइल (lifestyle) और खानपान में गड़बड़ी की वजह से आज के समय में लोगों को पाचन संबंधी दिक्कतों से जूझना पड़ रहा हैं। ऐसे में वे रोजाना अंकुरित मूंग (Ankurit Moong Dal) का सेवन करके इस समस्या से निजात पा सकते हैं। आपको बता दें, अंकुरित मूंग में फाइबर (fiber) की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो पाचन और पेट को बेहतर रखने में मदद करती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment