Create

अश्वगंधा खाने के 4 फायदे और सही तरीका

अश्वगंधा खाने के 4 फायदे और सही तरीका (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
अश्वगंधा खाने के 4 फायदे और सही तरीका (फोटो - sportskeedaहिन्दी)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

अश्वगंधा (Ashwagandha) पौधों के एक वर्ग का हिस्सा है, जिसे एडाप्टोजेन्स (adaptogens) कहा जाता है, जो चाय, पाउडर और सप्लीमेंट्स के रूप में या उनके कच्चे रूप में सेवन करने पर उनके स्वास्थ्य लाभ के लिए जाना जाता है। इसे भारतीय जिनसेंग (Indian ginseng), विंटर चेरी या इसके वैज्ञानिक नाम विथानिया सोम्निफेरा (Withania somnifera) के रूप में भी जाना जाता है। अश्वगंधा एक हर्बल झाड़ी है जिसकी जड़ें और बेरीज औषधीय गुणों के कारण उपयोग में लायी जाती हैं। यह लेख अश्वगंधा के फायदे और सेवन का सही तरीका बताने जा रहा है।

अश्वगंधा खाने के 4 फायदे और सही तरीका - Ashwagandha Khane Ke Fayde Aur Sahi Tarika In Hindi

1. तनाव और चिंता से राहत दिलाए (Relieves Stress and Anxiety)

अश्वगंधा अपने तनाव से राहत देने वाले गुणों के लिए जाना जाता है। अश्वगंधा नींद की गुणवत्ता को भी लाभ पहुंचा सकता है। एक अध्ययन के अनुसार यह पाया गया है कि अश्वगंधा नींद की गुणवत्ता को भी लाभ पहुंचाता है। शोधकर्ताओं ने पुष्टि की कि प्रतिभागियों ने प्लेसबो (placebo) खुराक की तुलना में जड़ी-बूटियों की खुराक के साथ बेहतर नींद ली।

2. ब्लड शुगर और फैट को कम करे (Reduce blood sugar and fat)

कुछ छोटे नैदानिक अध्ययनों में पाया गया कि अश्वगंधा ब्लड शुगर के स्तर और ट्राइग्लिसराइड्स (रक्त में सबसे आम प्रकार का फैट) को कम करने में सहायक है। एक अध्ययन ने अश्वगंधा के ब्लड शुगर को कम करने वाले प्रभावों की तुलना टाइप 2 मधुमेह के लिए निर्धारित दवाओं से की है।

3. गठिया के लिए अश्वगंधा (Ashwagandha for Arthritis)

अश्वगंधा में संभावित गठिया-रोधी (anti-arthritic) गुण हो सकते हैं जिन्हें व्यापक रूप से स्वीकार और रिपोर्ट किया जा सकता है। अश्वगंधा तंत्रिका तंत्र (nervous system) को शांत करके दर्द को दूर करने में मदद कर सकता है। एक प्रायोगिक अध्ययन में रोगियों को अश्वगंधा युक्त एक सूत्र दिया गया। इस हर्बल फॉर्मूलेशन ने दर्द और विकलांगता की गंभीरता को कम करने की क्षमता दिखाई।

4. फोकस और मेमोरी तेज करे (Sharpens focus and memory)

अश्वगंधा निर्देश के बाद अनुभूति (cognition), स्मृति (memory) और मोटर प्रतिक्रियाओं (motor responses) को करने की क्षमता में सुधार करने में मदद कर सकता है। प्लेसबो (placebo) की तुलना में, अश्वगंधा ने अनुभूति और साइकोमोटर (psychomotor) परीक्षणों के दौरान प्रतिभागियों के प्रतिक्रिया समय में काफी सुधार किया है (जो निर्देशों का जवाब देने और सांकेतिक कार्रवाई करने की क्षमता को मापते हैं)।

अश्वगंधा के सेवन का सही तरीका : The Right Way To Consume Ashwagandha In Hindi

अश्वगंधा खाने के कई तरीके हो सकते हैं। पानी के साथ या फिर शहद में मिलाकर अश्वगंधा पाउडर का सेवन किया जा सकता है। अश्वगंधा कैप्सूल, अश्वगंधा टी और अश्वगंधा जूस भी बाजार में उपलब्ध हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...