Create
Notifications

हर्निया से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए 5 आयुर्वेदिक उपचार- Hernia se judi samasyao ko door karne ke liye 5 Ayurvedic Upchar

हर्निया से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए 5 आयुर्वेदिक उपचार
हर्निया से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए 5 आयुर्वेदिक उपचार
reaction-emoji
Ritu Raj

Ayurvedic Remedies for Hernia Problems in hindi: आयुर्वेद की मानें तो, हर्निया शरीर में होने वाली गैर जरूरी वृद्धि होती है, जिसे अंतर वृद्धि कहते हैं। हर्निया होने पर पेट के हिस्से पर एक उभार आने लगता है, जैसे शरीर के किसी हिस्से पर सूजन आने लगती है। हर्निया पुरुष या महिला किसी को भी हो सकती है। हर्निया होने पर कब्ज, मोटापा, पेट में सूजन, भारीपन और दर्द महसूस होने लगता है। अगर इसका सही समय पर इलाज न कराया जाए तो यह गंभीर रूप ले सकती है। इस समस्या को ठीक करने के लिए आयुर्वेद को अपनाया जा सकता है।

हर्निया के लक्षण (Hernia Symptoms in Hindi)

पेट में या फिर नाभि में दर्द होना

पेट में भारीपन महसूस होना

आंतों का बाहर आना

लगातार छींक आना

उल्टी और कमजोरी महसूस करना

पेशाब करने में दिक्कत

कब्ज

पेट में गांठ या सूजन

हर्निया से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए 5 आयुर्वेदिक उपचार

अरंडी के बीज का तेल (Castor Seed Oil)

अरंडी का तेल पाचन प्रक्रिया को बढ़ाने के साथ ही पेट के अंदर सूजन को रोकने में मदद करता है। आप अरंडी के तेल से पेट पर प्रभावित जगह पर मालिश कर सूजन को कम कर सकते हैं। इसमें मौजूद पोषक तत्व सूजन की समस्या को दूर करने में मदद करेंगे।

एलोवेरा Aloe Vera Juice

हर्निया के इलाज में एलोवेरा काफी लाभ पहुंचा सकता है। इसमें मौजूद फाइबर शरीर के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। कब्ज की वजह से हर्निया की समस्या शुरू हुई है तो एलोवेरा रामबाण साबित हो सकता है। एलोवेरा जूस के सेवन से कब्ज की समस्या दूर होगी जिससे हर्निया ठीक होने में मदद मिलेगी।

काली मिर्च (Black pepper is beneficial for hernia)

काली मिर्च सूजन वाले क्षेत्र को ठीक करने में मदद करता है। इसके साथ ही काली मिर्च में विभिन्न एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं। इसलिए काली मिर्च हर्निया के दर्द के लिए प्राकृतिक उपचार का एक स्रोत माना गया है।

अदरक (Hernia problem will be removed by ginger)

अदरक पेट से जुड़ी कई समस्याओं के लिए लाभकारी है। पेट दर्द, गैस्ट्रिक की समस्या या हर्निया की भी समस्या में अदरक अपना सकारात्मक असर दिखा सकता है। अदरक एंटीऑक्सीडेंट और पोषक तत्वों का एक समृद्ध स्रोत है जो हर्निया के दर्द और सूजन को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा, यह आपके पेट और अन्नप्रणाली को गैस्ट्रिक जूस के विषाक्त निर्माण से बचाने में मदद करता है। हर्निया के इलाज के लिए ये अच्छे उपचारों में से एक माना गया है।

कैमोमाइल चाय (chamomile tea ayurvedic treatment for hernia)

कैमोमाइल चाय के सेवन से तनाव से राहत मिलता है साथ ही गैस्ट्रिक समस्याओं को भी दूर करने में मदद कर सकता है। हर्निया की समस्या में ये काफी प्रभावी है। इसके सेवन से हर्निया में होने वाले दर्द से राहत पाया जा सकता है। कैमोमाइल चाय एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरपूर होती है इसमें शहद मिलाकर दिन में कम से कम 4 बार सेवन करने से पाचन तंत्र ठीक रहता है और हर्निया ठीक होने लगती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Ritu Raj
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...