Create

मासिक धर्म में ऐंठन के आयुर्वेदिक उपचार- Masik Dharm me aithan ke ayurvedic upchar

मासिक धर्म में ऐंठन के आयुर्वेदिक उपचार
मासिक धर्म में ऐंठन के आयुर्वेदिक उपचार

पीरियड्स के दिन महिलाओं के लिए मुश्किल भरे होते हैं। हर महिला का मासिक धर्म अलग होता है। कुछ के लिए ये दिन ज्यादा कठिनाई भरा नहीं होता है। लेकिन, कुछ महिलाएं इन दिनों में कई परेशानियों का सामना करती हैं जिसमें, मूड स्विंग, चिड़चिड़ापन,शरीर और मन दोनों की एनर्जी डाउन हो जाती है। इसके साथ ही पेट में दर्दनाक ऐंठन भी होती है। ऐसे में आज हम बताएंगे उऩ आयुर्वेदिक उपचार के बारे में जो आपको मासिक धर्म के दौरान होने वाले ऐंठन से निजात दिलाने में मदद करेंगे।

मासिक धर्म में ऐंठन के आयुर्वेदिक उपचार- Masik Dharm me aithan ke ayurvedic upchar in hindi

घृतकुमारी (Aloe vera to get rid of menstrual cramps)

एलोवेरा सिर्फ स्किन के लिए नहीं बल्कि, सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद है। पीरियड्स के दौरान होने वाली ऐंठन में भी एलोवेरा काफी असरकारी है। इसके लिए पीरियड शुरू होने से 3-5 दिन पहले ही सुबह खाली पेट एलोवेरा का एक गिलास रस पीना शुरू कर दें। काफी लाभ मिलेगा।

तिल के तेल से करें मालिश (Massage with sesame oil in case of menstrual cramps)

माहवारी के दौरान ऐंठन से राहत पाने के लिए तिल का तेल काफी उपयोगी है। इसके लिए अपने निचले पेट की हल्के हाथों से मालिश करें। चाहे तो तेल को थोड़ा गर्म भी कर सकती हैं और फिर हल्के गर्म थैली से अपने पेट की सिकाई भी करें। इससे काफी आराम मिलेगा।

भुटाकेसी (Bhutakesi is Ayurvedic treatment for menstrual cramps)

पीरियड्स में होने वाले दर्द को दूर करने के लिए भुटाकेसी का उपयोग किया जाता है। एक कप पानी को उबालकर इसमें भुटाकेसी का पाउडर (1-2 ग्राम) मिला लें और इसमें शहद डालकर मिक्स कर लें। इसका दिन में दो बार सेवन करें काफी आराम मिलेगा। ब्‍लीडिंग हार्ट समूह की ये जड़ी बूटी, भूटाकेसी हिमालय, खासतौर पर कश्मीर के आसपास मिलती है।

अजवाइन (Ajwain will remove menstrual cramps)

पीरियड्स के दौरान होने वाले ऐंठन से छुटकारा पाने के लिए अजवाइन पुरानी जड़ी-बूटी है। अजवाइन मासिक धर्म के कारण या पाचन संकट के चलते होने वाले पेट दर्द दोनों में ही राहत देती है। इसके लिए पानी में 2 चुटकी अजवाइन डालकर इसे उबाल लें। फिर इसमें शहद मिलाकर दिन में दो से तीन बार इसका सेवन करने से काफी आराम मिलता है।

मेथी के बीज (Fenugreek seeds to relieve menstrual cramps)

माहवारी के दर्द से राहत पाने के लिए मेथी पुराना नुस्खा है। इसके लिए एक गिलास पानी में एक चम्मच मेथी के दानें को रात भर भिगो कर रखें और सुबह बीज के साथ पानी को पी जाएं। इससे काफी राहत मिलेगा।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment