Create
Notifications

शीतलचीनी के 5 फायदे और 3 नुकसान- Sheetal Chini Ke Fayde Aur Nuksan

शीतलचीनी के फायदे और नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)
शीतलचीनी के फायदे और नुकसान(फोटो-Sportskeeda hindi)
Rakshita Srivastava

शीतलचीनी (Sheetal Chini) एक पौधा है, ज‍िसके बीज या फल काली म‍िर्च जैसे दिखते हैं। शीतलचीनी को कबाब चीनी या पाइपर क्‍यूबेबा भी कहा जाता है। शीतलचीनी का उपयोग स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि शीतलचीनी औषधीय गुणों से भरपूर होता है। शीतलचीनी का उपयोग कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं को दूर करने में मदद करता है। शीतलचीनी में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण भी मौजूद होता है, जो स्वास्थ्य के लिहाज से काफी लाभदायक साबित होता है। लेकिन शीतलचीनी का अधिक मात्रा में सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि अधिक सेवन स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है। आइए जानते हैं शीतलचीनी के क्या-क्या फायदे और नुकसान होते हैं।

शीतलचीनी के 5 फायदे और 3 नुकसान

शीतलचीनी के फायदे

1- मौसम बदलने की वजह से बुखार (fever) होना एक आम बात है, लेकिन बुखार होने पर अगर आप शीतलचीनी का सेवन करते हैं, तो इससे बुखार उतर जाता है। क्योंकि शीतलचीनी के बीज में मौजूद तत्व शरीर की गर्मी को दूर करने में मददगार साबित होते हैं।

2- गठिया (Arthritis) की शिकायत होने पर जोड़ों में दर्द और सूजन की शिकायत हो जाती है, जिसकी वजह से चलना-फिरना मुश्किल हो जाता है। लेकिन गठिया की शिकायत होने पर अगर आप शीतलचीनी का सेवन करते हैं, तो इससे दर्द और सूजन दोनों में आराम मिलात है। क्योंकि शीतलचीनी में एंटी-इंफ्लामेटरी गुण मौजूद होता है।

3- अगर किसी को खांसी (Cough) की शिकायत है, तो उसे शीतलचीनी का सेवन करना चाहिए, क्योंकि अगर आप शीतलचीनी पाउडर का शहद के साथ सेवन करते हैं, तो इससे खांसी की शिकायत से छुटकारा मिलता है।

4- सर्दी-जुकाम (Cold) की शिकायत होने पर भी शीतलचीनी का सेवन काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि सर्दी-जुकाम की शिकायत होने पर अगर आप शीतलचीनी का काढ़ा बनाकर सेवन करते हैं, तो इससे सर्दी-जुकाम की शिकायत से छुटकारा मिलता है।

5- सिर दर्द (Headache) की समस्या एक आम समस्या है, लेकिन सिर दर्द की शिकायत होने पर अगर आप शीतलचीनी का उपयोग करते हैं, तो इससे सिर दर्द की शिकायत से छुटकारा मिलता है। इसके लिए शीतलचीनी के बीज को पीसकर पाउडर बना लेना चाहिए, इसके बाद इसमें नार‍ियल तेल मिलाकर सिर की मालिश करनी चाहिए।

शीतलचीनी के नुकसान

1- गर्भवती महिलाओं को डॉक्टर की सलाह लेने के बाद ही शीतलचीनी का उपयोग करना चाहिए।

2- शीतलचीनी से कई लोगों को एलर्जी (Allergy) की शिकायत होती है, ऐसे में इसका सेवन करने से बचना चाहिए।

3- शीतलचीनी का अधिक मात्रा में सेवन करने से आंत में जलन की शिकायत हो सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Rakshita Srivastava

Comments

Fetching more content...