Create
Notifications

हरी राम तुलसी के पत्ते के 7 फायदे - Hari Ram Tulsi ke patto ke 7 fayde

हरी राम तुलसी के पत्ते के 7 फायदे
हरी राम तुलसी के पत्ते के 7 फायदे
Ritu Raj

आयुर्वेद तुलसी के पौधों से कई सारी समस्याओं को दूर करने में इस्तेमाल करता है। तुलसी का हर एक भाग औषधीय गुणों से भरपूर होता है। इसलिए इसका आयुर्वेद में काफी महत्व है। तुलसी दो तरह की होती राम तुलसी और श्यामा तुलसी। आयुर्वेद की मानें तो, राम तुलसी और श्यामा तुलसी के गुणों में काफी अंतर होता है। सेहत के लिहाज से दोनों के अपने अपने फायदे हैं। राम तुलसी, एकदम कंचन हरी होती है। ये पाचन, पसीना, बच्चों की सर्दी-खांसी की समस्या को दूर करने में लाभकारी होती है।

हरी राम तुलसी के पत्ते के 7 फायदे

1- सर्दी-जुकाम (Cold and cough)

तुलसी के पत्तों के रस में अदरक का रस मिलाकर शहद के साथ पीने से सर्दी-जुकाम की समस्या दूर होती है। इसके साथ ही इसकी चाय भी पी सकते हैं।

2- तनाव (stress)

आजकल लोग अपने कामों को लेकर ज्यादा चिंता में रहते हैं और इसका असर हमारे शरीर पर पड़ता है। इस समस्या से छुटकारा पाने में तुलसी आपके काम आ सकती है। इसमें एंटी स्ट्रेस गुण होते हैं जो स्ट्रेस को दूर करने में मदद करते हैं। इसके लिए हरी तुलसी के चाय का सेवन करना चाहिए।

3- उल्टी (Vomiting)

उल्टी की समस्या हो रही है तो तुलसी के पत्तों से अर्क निकाल लें और उसका सेवन करें। इससे उल्टी की समस्या से जल्द आराम मिल जाएगा। तुलसी पेट की गैस की समस्या को दूर करने में भी असरकारी है। कई बार पेट में गैस के चलते भी उल्टी होती है। ऐसे में तुलसी इसे ठीक करने में मदद कर सकती है।

4- रोग प्रतिरोधक क्षमता (Benefits of Tulsi for immunity)

हमारे शरीर में जब रोग प्रतिरोधक क्षमता मजबूत रहता है तो ये हमें कई सारी बीमारियों से बचाने में मदद करता है। तुलसी इम्यूनिटी को मजबूत करने का काम करती है। इसमें इम्यूनोमॉड्यूलेटरी गुण होते हैं जो इम्यून सिस्टम को मजबूत करते हैं।

5- मुंह के स्वास्थ्य (Tulsi for oral health)

तुलसी में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं जो मुंह से आने वाली बदबू, पायरिया और मसूड़ों से जुड़ी समस्याओं को ठीक करने में मदद करता है। इसमें एंटी माइक्रोबियल गुण होते हैं जो मुंह को बैक्टीरियल संक्रमण से बचाने में मदद करते हैं।

6- सिरदर्द (Tulsi Tea in Headache)

सिरदर्द की समस्या में तुलसी कमाल का फायदा पहुंचा सकती है। इसके लिए तुलसी के चाय का सेवन करने से लाभ मिलता है।

7- गले की खराश (Sore throat)

सर्दी, खांसी के साथ ही तुलसी गले की खराश की भी समस्या को दूर करने में मदद करती है। ये फेफड़ों में जमे कफ को निकालने में मदद करती है। जिससे गले की खराश से छुटकारा मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Ritu Raj

Comments

Fetching more content...