अनंतमूल पौधे के 6 फायदे- Anantmul Paudhe Ke Fayde

अनंतमूल पौधे के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)
अनंतमूल पौधे के फायदे(फोटो-Sportskeeda hindi)

अनंतमूल (Anantmul) एक जड़ी बूटी है, जिसे कृष्ण सारिवा के नाम से भी जाना जाता है। अनंतमूल के फूल सुगंधित होने के साथ-साथ हरे, सफेद और बैंगनी रंग के पाए जाते हैं, साथ ही अनंतमूल पौधे का उपयोग सेहत के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि अनंतमूल पौधा औषधीय गुणों से भरपूर होता है, अनंतमूल का सेवन करने से स्वास्थ्य संबंधी कई समस्याएं दूर होती है। आइए जानते हैं अनंतमूल पौधे के क्या-क्या फायदे होते हैं।

अनंतमूल पौधे के 6 फायदे

1- अनंतमूल का सेवन पीलिया (Jaundice) की बीमारी में काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि पीलिया की शिकायत होने पर अगर आप अनंतमूल की जड़ की छाल को पानी में उबालकर उसमें काली मिर्च मिलाकर पीते हैं, तो इससे पीलिया की बीमारी ठीक होती है।

2- अगर किसी को भूख न लगने की शिकायत है, तो उसके लिए अनंतमूल का सेवन काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि अगर आप अनंतमूल पौधे के चूर्ण को गाय के दूध में मिलाकर पीते हैं, तो इससे भूख न लगने की समस्या दूर होती है।

3- गठिया (Arthritis) की शिकायत होने पर जोड़ों में दर्द और सूजन की शिकायत हो जाती है। जिसकी वजह से चलने-फिरने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। लेकिन अगर आप अनंतमूल के चूर्ण का शहद के साथ मिलाकर सेवन करते हैं, तो इससे दर्द और सूजन की शिकायत दूर होती है।

4- गले में सूजन (Sore throat) की शिकायत होने पर अनंतमूल का उपयोग काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि गले में सूजन की शिकायत होने पर अगर आप अनंतमूल पौधे का लेप बनाकर गले में लगाते हैं, तो इससे सूजन की शिकायत दूर होती है।

5- खून में गदंगी के कारण आप कई बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। लेकिन अगर आप अनंतमूल के काढ़े का सेवन करते हैं, तो इससे खून साफ होता है, जिससे आप कई बीमारियों के शिकार होने से बच सकते हैं।

6- अगर किसी को अपच (Indigestion) की शिकायत है, तो उसके लिए अनंतमूल का सेवन काफी फायदेमंद साबित होता है। क्योंकि अगर आप अनंतमूल के चूर्ण में सारिवा का चूर्ण मिलाकर सेवन करते हैं, तो इससे अपच की शिकायत से छुटकारा मिलता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Rakshita Srivastava