Create

तांबे के बर्तन के फायदे - Tambe ke bartan ke fayde

तांबे के बर्तन के फायदे जान रह जाएंगे हैरान
तांबे के बर्तन के फायदे जान रह जाएंगे हैरान

आयुर्वेद के लिए तांबा एक अत्यंत महत्वपूर्ण धातु है। हजारों सालों तक भारत और अन्य एशियाई देश तांबे के बड़े बर्तनों में पानी जमा करते थे। इसके अलावा तांबे का इस्तेमाल अलग-अलग तरीकों से किया जाता था। तांबे के लोटे या गिलास में पानी पीने के अनेकों फायदे हैं। इसके साथ ही तांबे के बर्तनों में खाना खाने से हमारे शरीर को कई तरह का लाभ मिलता है। आज हम बात करेंगे तांबे के बर्तन के क्या-क्या फायदे होते हैं।

तांबे के बर्तन के फायदे - Tambe ke bartan ke fayde in Hindi

मस्तिष्क के लिए फायदेमंद है तांबा (Copper is beneficial for the brain)

कॉपर एक धातु है जो माइलिन के निर्माण में मदद कर सकता है। यह एक शीट है जो तंत्रिका कोशिकाओं (Nerve Cells) की सुरक्षा करता है और आपके सभी कॉग्निटिव फंक्शन के लिए महत्वपूर्ण हैं। जिन लोगों को दर्दनाक मस्तिष्क की चोट लगी है, यदि उनका कॉपर लेवल कम है तो इसे ठीक करना बेहद कठिन होगा। ऐसे में तांबे के बर्तन को खाने-पीने के इस्तेमाल में लाने से फायदा मिल सकता है।

तांबा लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाता है (copper increases red blood cells)

तांबा लोहे के साथ मिलकर शरीर को लाल रक्त कोशिकाओं को आकार देने में मदद करता है। तांबे के बर्तनों में भोजन करने से ये शरीर के आयरन तत्वों के साथ मिलकर शरीर की लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करता है। यह धातु स्वस्थ हड्डियों, रक्त वाहिकाओं, नसों और प्रतिरक्षा प्रणाली के रखरखाव के साथ-साथ लोहे के अवशोषण में सहायता करता है। तांबा लाल रक्त कोशिकाओं और संयोजी ऊतक के निर्माण के लिए आवश्यक तत्व है और कोलेजन उत्पादन में एक महत्वपूर्ण मिनरल की तरह काम करता है।

हृदय स्वास्थ्य (beneficial copper for heart health)

शरीर में तांबे की कमी उच्च कोलेस्ट्रॉल और रक्तचाप के स्तर से संबंधित है। एक रिसर्च की मानें तो, जिन्हें हृदय की बीमारियां हैं उन्हें तांबे के बर्तनों में भोजन करने से कई तरह की हृदय संबंधी बीमारियों से राहत मिल सकती है।

वजन घटाने (copper vessel for weight loss)

जो लोग वजन घटाने की कोशिश कर रहे हैं उन्हें तांबे के बर्तन का इस्तेमाल करना चाहिए। दरअसल, यह एक अग्नि धातु है। एक शोध की माने तो, यह शरीर में अप्रत्यक्ष रूप से चयापचय की दर को बढ़ाने के लिए जाना जाता है। तांबे के बर्तनों में भोजन करने से यह शरीर के मेटाबॉलिज्म को नियंत्रित करने में मदद करता है जिससे वजन कम होता है।

पेट की समस्याएं ठीक रहती हैं (Stomach problems are cured by eating food in a copper vessel)

तांबे के बर्तनों में भोजन करना और पानी पीना यानी कई बीमारियों से दूर रहना। तांबे में जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो पेट में सूजन को कम करते हैं। जिससे यह अल्सर, अपच और संक्रमण के लिए एक उत्कृष्ट उपचार बन जाता है। तांबे के बर्तनों में बनाया गया और खाया गया भोजन शरीर की पाचन क्रिया को दुरुस्त रखता है। तांबा पेट की सफाई और शरीर को डिटॉक्स करने और शरीर से अपशिष्ट पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment