गोंद कतीरा खाने के फायदे

गोंद कतीरा खाने के फायदे (sportskeeda Hindi)
गोंद कतीरा खाने के फायदे (sportskeeda Hindi)

अक्सर प्रेगनेंट महिलाओं pregnant women को गोंद का सेवन कराया जाता है, क्योंकि इससे शरीर को बहुत से लाभ मिलते हैं। आपको बता दें, गोंद पेड़ों से निकलने वाला पीले रंग का चिपचिपा, गाढ़ा लिक्विड होता है। इसकी तासीर ठंडी होती है इसलिये गर्मियों में इसका सेवन करना बेहद फायदेमंद होता है। वहीं गोंद कतीरा गोंद के लिक्विड को सुखाकर बनाया गया सूखा पदार्थ होता है। इसका उपयोग घरों में अक्सर किया जाता है। वहीं अगर किसी के मुंह के छाले या अल्सर सूजन, लाली और दर्द हैं। तो इसे कम करने के लिए गोंद कतीरा का बारीक पिसा हुआ पेस्ट बनाएं और अपने छालों पर लगाएं। ऐसा करने से छालों में तुरंत आराम मिलेगा। जानते हैं गोंद कतीरा खाने के फायदे।

youtube-cover

गोंद कतीरा खाने के फायदे : Benefits of eating gond katira in hindi

शरीर का कमजोरी दूर करने के लिए - अगर किसी के शरीर में कमजोरी आ रखी है, तो ऐसे में उसके लिए गोंद कतीरा का सेवन लाभकारी हो सकता है। गोंद कतीरा में प्रोटीन और फॉलिक एसिड भरपूर पाया जाता है। इसका सेवन करने के लिए आप इसे पानी या दूध में भिगो कर रखें और फिर सुबह मिश्री मिलाकर शर्बत बनाकर पिएं।

पीरियड्स को रेगुलर करने में मदद करता है -अगर किसी महिला के पीरियड्स नियमित नहीं हैं तो ऐसे में गोंद कतीरा और मिश्री को साथ में पीस कर 2 चम्‍मच दूध में मिला कर पीने से फायदा होता है। इसके अलावा आप गोंद के लड्डू भी बना कर खा सकते हैं। यही नहीं बच्‍चा होने के बाद भी गोंद के लड्डू खाने पर कमजोरी और पीरियड्स की गड़बड़ी भी ठीक हो जाती है।

वजन घटाने के लिए - अगर किसी व्यक्ति का वजन बढ़ा weight lose हुआ है तो इसे कम करने के लिए गोंद कतीरा लाभकारी होता है। आपको बता दें, गोंद कतीरा शरीर से जहरीले पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है इसके साथ ही ये मेटाबॉलिज्‍म को बढ़ाता है। इसमें हाई फाइबर कंटेंट मौजूद होता है। इसके अलावा ये पेट और पाचन तंत्र digestion system में भी सुधार करने के लिए जाना जाता है। इसके नियमित सेवन से शरीर पर जमा एक्स्ट्रा फैट घटता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan