Create

गर्भावस्था में पालक खाने के गजब के फायदे - Garbhavastha me Palak Khane ke Gajab Ke Fayde

गर्भावस्था में पालक खाने के गजब के फायदे
गर्भावस्था में पालक खाने के गजब के फायदे

Benefits of eating spinach during pregnancy in hindi: हर किसी को अपनी डाइट में हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल करना चाहिए। इससे शरीर को जरूरी सारे पोषक तत्व मिल जाते हैं। जिससे शरीर का स्वास्थ्य बना रहता है। लेकिन, प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं को अपने खानपान पर ज्यादा ध्यान देना पड़ता है। इस दौरान गर्भवती महिलाओं को हरी पत्तेदार सब्जियों का भी खूब सेवन करने की सलाह दी जाती है। जिसमें से एक है पालक। गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को पालक खाने के गजब के फायदे होते हैं।

पालक के पोषक तत्व (Spinach Nutrients in Hindi)

पालक में कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो मां के साथ पेट में पल रहे बच्चे के विकास के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। पालक के पोषक तत्वों की बात करें तो इसमें... विटामिन ए, विटामिन बी 2, सी, ई, के, कैल्शियम, मैग्नीशियम, मैंगनीज, फास्फोरस, जस्ता, सेलेनियम, प्रोटीन और फाइबर जैसे बहुत सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं। पालक के सेवन से गर्भावस्था के दौरान भ्रूण के विकास में काफी मदद मिलती है। इसमें फोलिक एसिड होता है जो शिशु को जन्म से विकारों से बचाने में मदद भी करता है।

गर्भावस्था में पालक खाने के गजब के फायदे - Garbhavastha me Palak Khane ke Gajab Ke Fayde in hindi

नहीं होगी आयरन और फोलिक एसिड की कमी (pregnancy me nahi hogi iron aur folic acid ki kami)

गर्भावस्था के दौरान शरीर में ब्लड वॉल्यूम 30 से 50 फीसदी तक बढ़ जाता है जिससे शरीर की आयरन और फोलिक एसिड की जरूरत भी बढ़ जाती है। ऐसे में पालक के सेवन से शरीर की आयरन की आवश्यकता को पूरा किया जा सकता है।

कैल्शियम (pregnancy me Palak Khane se nahi hoga Calcium ki kami)

प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भवती महिलाओं में कैल्शियम कम हो जाता है। ऐसे में आपको हाई बीपी की समस्या हो सकती है। इसमें पालक का सेवन करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि, इसमें मौजूद कैल्शियम बीपी को नियंत्रित रखता है।

भ्रूण के मस्तिष्क का विकास होता है (Fetal brain development by eating spinach)

पालक में प्रचुर मात्रा में फोलिक एसिड होता है और ये गर्भावस्था के दौरान होने वाले मिसकैरेज को होने से रोकने में काफी मदद करता है। इसके साथ ही ये भ्रूण के स्पाइनल और बौद्धिक विकास (मस्तिष्क विकास) में भी मदद करता है। पालक का जो सबसे अहम पोषक तत्व है वो है आयरन जिसके चलते नई लाल रक्त कोशिकाएं बनती हैं। ऐसे में यह गर्भावस्था के दौरान आयरन डेफिशियेंसी एनीमिया से बचा सकता है।

मूड में होगा सुधार (Spinach improves mood during pregnancy)

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में हार्मोनल बदलाव होते हैं, जिसके चलते मूड स्विंग्स की शिकायत रहती है। ऐसे में पालक आपके काफी काम आ सकता है। क्योंकि, इसमें मौजूद विटामिन बी मूड में सुधार लाने में मदद कर सकता है। इसके साथ ही ये डिप्रेशन, स्ट्रेस और एंग्जायटी को भी रोकने में मदद करता है।

भ्रूण को मिलेगा जरूरी पोषक तत्व (child gets essential nutrients by consuming spinach during pregnancy)

पालक भ्रूण के विकास के लिए जरूरी विटामिन ए की पूर्ति को पूरा करता है। इसके साथ ही शिशु के तंत्रिका विकास के लिए आवश्यक विटामिन बी भी पालक से मिल जाता है। साथ ही इसमें विटामिन ए और सी होता है जो इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद करता है। कुल मिलाकर यह कहा जा सकता है कि, गर्भवती महिलाओं को सीमित मात्रा में पालक का सेवन करने से काफी सारे लाभ मिल सकते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment