Create

गुड़हल के पत्ते के फायदे - Gudhal ke patte ke fayde

गुड़हल के पत्ते के चौकाने वाले फायदे
गुड़हल के पत्ते के चौकाने वाले फायदे

गुड़हल के फूल को लगभग हर पूजा-पाठ में चढ़ाया जाता है और खासकर नवरात्र में तो इसके बिना पूजा अधूरी मानी जाती है। लेकिन, क्या आपको पता है कि गुड़हल का पेड़ एक आयुर्वेदिक पेड़ है। दरअसल, हमारे इर्द-गिर्द इतनी चीजें मौजूद हैं जिनके जरिए हम कई रोगों से मुक्ति पा सकते हैं। इन्हीं में से एक है गुड़हल। आयुर्वेद में गुड़हल (Gudhal ke patte ke fayde) के फूलों और पत्तों का इस्तेमाल औषधीय रूप में किया जाता है। इसकी पत्तियों में आयरन, विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट के गुण होते हैं, जो चेहरे की झुर्रियों, मुहांसों और दाग-धब्बों को ठीक करने में कारगर होती हैं। इसके साथ ही कई और शारीरिक लाभों में इसे इस्तेमाल में लाया जाता है।

गुड़हल के पत्ते के फायदे - Gudhal ke patte ke fayde in Hindi

सर्दी-खांसी (Hibiscus leaves are beneficial in cold and cough)

सर्दी-खांसी से अगर परेशान हैं तो गुड़हल की पत्तियों से बनी चाय पिएं, इससे काफी लाभ मिलेगा। इसके लिए इसमें मुलेठी, सौंफ, तुलसी के पत्ते, गुड़हल के सूखे फूल, छोटी इलायची और दालचीनी मिलाकर इसकी चाय बना लें और पी जाएं। सर्दी-खांसी के साथ ही इससे चेहरे का रंग भी साफ होता है।

सूजन कम करे(Hibiscus leaves are beneficial in reducing inflammation)

गुड़हल की पत्तियों का इस्तेमाल शरीर में सूजन को कम करने के लिए भी किया जाता है। इसके लिए इसकी पत्तियों को पीसकर सूजन वाले स्थान पर लगाने से लाभ होगा। इसके साथ ही गुड़हल के फूल की पंखुड़ियों को बताशे के साथ नियमित रूप से सेवन करने से भी लाभ होता है।

सिर दर्द (sir dard me Gudhal ke patte ke fayde)

आजकल लोगों का जीवन काफी तनाव भरा रहता है। ऐसे में सिर दर्द की समस्या तेजी से बढ़ रही है। अब इस समस्या का भी समाधान गुड़हल ही है। इसके लिए तिल के तेल में इसके फूलों को पकाकर उसे ठंडा करके सिर में लगाने से सिर दर्द की समस्या से छुटकारा मिलेगा। हालांकि, गुड़हल का तेल भी बाजार में मिलता है।

खून रोके और घाव भरे (Use hibiscus leaves to stop bleeding and heal wounds)

आयुर्वेद के लिए गुड़हल एक जड़ी-बूटी है और इसे खून को रोकने के लिए इस्तेमाल में लिया जाता है। चोट लगने के बाद खून निकल रहा है तो गुड़हल की पत्ती पीसकर उसका रस खून निकलने वाले स्थान पर लगाएं, खून बहना बंद हो जाएगा। इसके साथ ही गुड़हल का तेल घाव भरने में भी मदद करता है।

बालों की समस्या (Hibiscus leaves remove hair problem)

बाल झड़ने या डैंड्रफ की समस्या में गुड़हल लाभकारी है। इसके लिए गुड़हल की पत्ती और उसके फूलों को पीसकर लेप बनाकर अपने बालों में लगाएं। डैंड्रफ की समस्या दूर होगी और बाल काले होंगे। इसके साथ ही नारियल के तेल में गुड़हल के फूलों और पत्तियों को पकाकर ठंडा करके इसे बालों में मालिश करने से बाल चमकदार और मजबूत होते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Ritu Raj
Be the first one to comment