Create

त्वचा पर हींग और शहद लगाने के फायदे : Twacha Par Hing Aur Shahad Lagane Ke Fayde 

त्वचा पर हींग और शहद लगाने के फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)
त्वचा पर हींग और शहद लगाने के फायदे (फोटो - sportskeeda hindi)

त्वचा की देखरेख करना आज के समय में जरूरी हो गया है। इसके लिए हींग और शहद का उपयोग लाभकारी हो सकता है। हींग त्वचा पर पहले एक स्क्रब की तरह काम करता है और डेड सेल्स को निकालता है। ये आॉयली, सेंसिटिव और ड्राई, तीनों प्रकार की स्किन के लिए जरूरी है। इसके बाद हींग और शहद चेहरे पर लगाने से एक्ने को कम करता है, खुजली को कम करता है और चेहरे को स्वस्थ रखता है। तो, आइए सबसे पहले जानते हैं त्वचा पर हींग और शहद इस्तेमाल करने का तरीका और इसके फायदे (Hing shahad ke fayde in hindi)

त्वचा पर हींग और शहद इस्तेमाल करने का तरीका - twacha par hing aur shahad istemal karne ke tarika in hindi

स्क्रब की तरह करें उपयोग - हींग और शहद को मिला कर आप स्क्रब की तरह इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए आपको बस हींग में शहद मिलाना है और इसे अपने चेहरे पर लगाना है। फिर गुनगुने पानी को हांथ पर लगाएं और चेहरे की मसाज करें। फिर चेहरा धो लें।

क्लींजर की तरह - क्लींजर की तरह इस्तेमाल करने के लिए हींग को थोड़ा सा पीस लें और फिर इसमें शहद व एलोवेरा मिलाएं। फिर इसे अपने चेहरे पर लगाएं और हल्के हांथ से चेहरे को साफ करें।

एंटी एक्ने की तरह - हींग, शहद और हल्दी को एक साथ मिला कर इसे एंटी एक्ने की तरह आप चेहरे पर लगा सकते हैं। फिर इसे थोड़ी देर रहने दें और ठंडे पानी से अपने चेहरे को धो लें।

त्वचा के लिए हींग और शहद लगाने के फायदे - Hing and honey paste benefits in hindi

डेड सेल्स हटाता है - त्वचा से डेड सेल्स को हटाने के लिए हींग और शहद बहुत ही फायदेमंद है। हींग चेहरे को अंदर से साफ करता है तो, शहद चेहरे को अंदर से नरिश करने का काम करता है।

एंटी बैक्टीरियल है - हींग और शहद एंटीबैक्टीरियल की तरह काम करता है। यह चेहरे को फंगल इंफेक्शन से बचाने में मदद करता है।

एंटी-एजिंग गुणों से भरपूर - हींग और शहद, दोनों ही एंटी एजिंग गुणों से भरपूर है और ये चेहरे से झुर्रियों, महीन रेखाओं और उम्र के धब्बों को कम करने में मदद करते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
Be the first one to comment