Create

पुशअप करने के फायदे pushups karne ke fayde

जानिए पुशअप करने के फायदे(फोटो:Youtube)
जानिए पुशअप करने के फायदे(फोटो:Youtube)
reaction-emoji
Ritu Raj

शरीर की स्ट्रेंथ बढ़ाने और मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए पुश-अप्स एक बेहतरीन एक्सरसाइज है। पुशअप करने से आपके पूरे शरीर पर प्रभाव पड़ता है। ये आपको फिट रखने में भी बहुत मदद करता है। रोजाना पुशअप्स करने से आपके शरीर में ताकत बढ़ती है और साथ शरीर में लचीलापन भी आता है। इन सबके अलावा भी पुश-अप्स करने के ढेर सारे फायदे होते हैं। इसी कड़ी में आज हम आपको पुशअप करने के फायदे के बारे में बताएंगे।

पुशअप करने के फायदे pushups karne ke fayde in Hindi

फ्लेक्सिबिलिटी बढ़ाता है (Increases Flexibility)

रीर को लचीला बनाने के लिए पुशअप बेहतरीन एक्सरसाइज है। इस एक्सरसाइज की मदद से शरीर की फ्लेक्सिबिलिटी को बढञाया जा सकता है। इस एक्सरसाइज को करते वक्त जब अपने शरीर को नीचे की ओर ले जाते हैं तो आपकी पीठ की मांसपेशियां स्ट्रेच होती हैं और जब आप शरीर को ऊपर ले आते हैं तो आपके बाइसेप्स के मसल्स स्ट्रेच होते हैं। ऐसे में लगातार इसकी प्रैक्टिस से आपके शरीर का लचीलापन बढ़ता है।

कैलोरी बर्न होती है (calories are burned)

पुश-अप्स करने से शरीर की शक्ति बढ़ती है और साथ ही फैट बर्न करने में भी मदद करता है। पुश-अप्स करने के दौरान आप काफी एनर्जी खर्च करते हैं। ये एनर्जी और कुछ नहीं बल्कि कैलोरीज ही होती हैं। ऐसे में वजन घटाने में पुशअप्स आपके लिए मददगार साबित हो सकता है।

मांसपेशियों का निर्माण (build muscle)

पुशअप्स मांसपेशियों को बढ़ाने का सबसे बेहतरीन तरीका है। पुशअप आपके शरीर में बाइसेप्स पीठ की मांसपेशियों और सीने की मांसपेशियों में खिंचाव उत्पन्न करता है जिससे वहां की मांसपेशियां अधिक मजबूत होती हैं। वहीं इस एक्सरसाइज को नियमित रूप से करने पर नए मांसपेशियों का निर्माण भी होता है।

टेस्टोस्टेरॉन लेवल बढ़ाता है (Increases Testosterone Levels)

उम्र के साथ महिलाओं और पुरुषों में हार्मोन्स कॉन्संट्रेशन बदलते रहते हैं। पुरुषों में टेस्टोस्टेरॉन का स्तर काफी कम होता जाता है। ऐसे में पुशअप्स की मदद से इससे निजात पाया जा सकता है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Ritu Raj
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...